December 3, 2022

उत्तराखंड जन

जन-जन की आवाज..

उत्तराखंड की ACS के सनसनीखेज बयान पर यूपी पुलिस का पलटवार, अपर मुख्य सचिव ने अब दी सफाई..

Uttarakhand News: उत्तराखंड की अपर मुख्य सचिव (ACS) गृह राधा रतूड़ी ने यूपी पुलिस को लेकर एक सनसनीखेज बयान दिया। जिस पर यूपी पुलिस ने पलटवार करते हुए इस बयान को गैर जिम्मेदाराना बताया है। वहीं इस बयान पर सवाल खड़े होते ही ACS गृह राधा रतूड़ी ने यू-टर्न लिया और उन्हें सफाई देनी पड़ी।

दरअसल, अपर मुख्य सचिव गृह राधा रतूड़ी ने सूबे में हुए विभिन्न अपराधों पर पुलिस की भूमिका को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि, उत्तराखंड की पुलिस अपराधियों को पकड़ने में कोई कोताही नहीं बरतती है। उन्होंने कहा कि, क्राइम को सही तरीके से सॉल्व किया जाना चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि, उत्तर प्रदेश पुलिस कई बार निर्दोष लोगों को पकड़ती है और कहती है कि हमने केस सुलझा लिया है। ये गलत है। यदि आप एक निर्दोष व्यक्ति को पकड़ेंगे तो 99 और अपराधी पैदा होंगे। अपराध की सही विवेचना होनी चाहिए और सही लोगों को सजा मिलनी चाहिए।

इस बयान पर यूपी के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने प्रतिक्रिया देते हुए पलटवार किया। उन्होंने कहा कि, उत्तराखंड के ACS गृह का बयान देखा और सुना है। ये बयान खेद जनक है और तथ्यों पर आधारित नहीं हैं। मुख्तार अंसारी और विजय मिश्रा जिन्हें न्यायालय ने सज़ा दी है वे निर्दोष लगते हैं? क्या ज़फर जो खनन माफिया है वे निर्दोष लगते हैं? उन्होंने कहा कि, उत्तर प्रदेश की पुलिस ने अपराध और अपराधियों के प्रति कार्रवाई करके एक नजीर प्रस्तुत की है। उत्तर प्रदेश पुलिस उत्तराखंड सरकार से मांग करती है कि, इस तरह के गैर ज़िम्मेदाराना बयान पर रोक लगाई जाए।

वहीं अपर मुख्य सचिव गृह राधा रतूड़ी के इस बयान पर जैसे ही सवाल खड़े हुए तो उन्होंने इस मामले में यू-टर्न लेते हुए सफाई दी। आईएएस राधा रतूड़ी ने अब कहा कि, यूपी और उत्तराखंड सहित सभी राज्यों की पुलिस अच्छा काम कर रही है। उन्हें उम्मीद है कि, निर्दोष को किसी भी मामले में नहीं फंसाया जाएगा और पुलिस केवल दोषियों पर कार्रवाई करेगी।

error: कॉपी नहीं, शेयर कीजिए!