December 2, 2022

उत्तराखंड जन

जन-जन की आवाज..

Uttarakhand: द्रौपदी का डांडा-2 हिमस्खलन और पौड़ी बस हादसे के मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख, घायलों को एक लाख तक की सहायता

Uttarakhand: उत्तराखंड में मंगलवार को दो बड़े हादसे हुए। इन हादसों में 35 लोगों से ज्यादा लोगों की मौत हो गई। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बीते कल यानि 4 अक्तूबर को उत्तरकाशी और पौड़ी की घटनाओं में प्रभावितों को आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है।

सीएम धामी ने उत्तरकाशी के ‘द्रौपदी का डांडा-2’ पर्वत चोटी में हुए हिमस्खलन और पौड़ी की बस दुर्घटना, दोनों घटनाओं में मृतकों के परिजनों को ₹2-2 लाख, गम्भीर घायल को ₹1-1 लाख और सामान्य घायल को ₹50-50 हजार की आर्थिक सहायता तत्काल उपलब्ध कराने हेतु अधिकारियों को निर्देशित किया है।

वहीं मुख्यमंत्री ने पौड़ी बस दुर्घटना के बाद सबसे पहले पहुंचे ग्रामीणों को भी प्रोत्साहन धनराशि देने के निर्देश दिए हैं। सीएम ने डीएम पौड़ी को निर्देशित किया है कि, जिन ग्रामीणों ने आपदा की घड़ी में घायलों को और मृतकों को बाहर निकालने में मदद किया है, उनकी सूची बनाकर उनको भी प्रोत्साहित करने हेतु प्रोत्साहन धनराशि प्रदान की जाए।

सीएम धामी ने आज पौड़ी जिले के सिमड़ी गांव के निकट हुए दु:खद बस हादसे के घटनास्थल का मौके पर पहुँचकर स्थलीय निरीक्षण किया। इस दौरान कमिश्नर गढ़वाल, डीएम पौड़ी एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से घटना की विस्तृत जानकारी लेते हुए आवश्यक कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को कोटद्वार बेस अस्पताल में सिमड़ी, पौड़ी में हुई बस दुर्घटनाग्रस्त में घायल हुए लोगों का हालचाल जाना। इस अवसर पर उनके साथ पूर्व मुख्यमंत्री एवं सांसद डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक भी मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने कोटद्वार बेस अस्पताल में घायलों के परिवारजनों से मुलाकात कर कहा कि घायलों के ईलाज के लिये सरकार द्वारा पूरी व्यवस्था की गई है। मुख्यमंत्री ने अस्पताल में भर्ती घायलों के बारे में डाक्टरों से पूरी जानकारी ली।

वहीं मुख्यमंत्री ने सिमड़ी, पौड़ी बस दुर्घटना में फर्स्ट रेस्पांडर के रूप में घटना स्थल पर पहुंचे ग्रामीणों का भी आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि, सबसे पहले आस-पास के ग्रामीण पहुँचे और उन्होंने घायलों को बाहर निकालने में मदद की।

error: कॉपी नहीं, शेयर कीजिए!