November 26, 2022

उत्तराखंड जन

जन-जन की आवाज..

उत्तराखंड में आज फिर भूकंप, पिछले महीने भी 04 बार आया भूकंप, लगातार झटकों से लोगों में दहशत

चमोली: उत्तराखंड में एक अंतराल पर लगातार भूकंप के झटके महसूस किए जा रहे हैं। आज एक बार फिर प्रदेश के दूरस्थ जिले में चमोली में भूकंप से धरती डोली। दोपहर 2 बजकर 24 मिनट पर यह झटके महसूस किए गए हैं। इसका केंद्र सतह से 5 किलोमीटर गहराई में रहा।

नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के मुताबिक, आज दोपहर आए इस भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 3.3 मापी गई है। हालांकि, भूकंप से किसी तरह के जानमाल के नुकसान की सूचना नहीं है।

बता दें कि, इससे पहले साल के पहले महीने यानि जनवरी 2022 में ही प्रदेश के अलग-अलग जिलों में चार बार भूकंप के झटके महसूस किए गए। लगातार भूकंप के झटकों से लोगों में दहशत का माहौल है।

क्यों आता है भूकंप?

पृथ्वी के अंदर 7 प्लेट्स हैं, जो लगातार घूमती रहती हैं। जहां ये प्लेट्स ज्यादा टकराती हैं, वह जोन फॉल्ट लाइन कहलाता है। बार-बार टकराने से प्लेट्स के कोने मुड़ते हैं। जब ज्यादा दबाव बनता है तो प्लेट्स टूटने लगती हैं। नीचे की ऊर्जा बाहर आने का रास्ता खोजती हैं और डिस्टर्बेंस के बाद भूकंप आता है। इनके अलावा भी भूकंप अन्य कई कारण होते हैं। जैसे ज्वालामुखी का विस्फोट, भूमि असंतुलन, जलीय भार, पृथ्वी का सिकुड़ना, प्रत्यास्थ प्रतिक्षेप सिद्धांत, प्लेट विवर्तनिकी का सिद्धांत उल्कापात, पृथ्वी के घूर्णन या परिभ्रमण के अन्तर्गत अन्य आकाशीय पिण्डों का पृथ्वी पर प्रभाव, भूपटल के नीचे गैसों के प्रसार, कई मानव जनित कारण जैसे खनन क्रिया जिसमें जीवाश्म ईंधन एवं अन्य खनन, भूमिगत जल का निष्कर्षण, बांधों का निर्माण, परमाणु विस्फोट एवं भूमिगत परमाणु परीक्षण आदि।

भूकम्प आने पर क्या करें, और क्या न करें

1-भूकम्प आने पर फौरन घर, स्कूल या दफ्तर से निकलकर खुले स्थान या मैदान में जायें।

2-बडी बिल्डिंग, पेडों, बिजली के खम्बों आदि से दूर रहें।

3- कई फंस गये हो तो दौडे नही। इससे भूकम्प का ज्यादा असर होगा।

4- भूकम्प आने पर खिडकी अलमारी, फंखे एंव उपर रखे भारी सामान से दूर हट जायें। ताकि इनके गिरने और शीशे टूटने से चोट न लगें।

5- अगर आप बाहर नही निकल पाते तो टेबल, बेड, डेस्क जैसे मजबूत फर्नीचर के नीचे घुस जाएं, और उसके पाया को कसकर पकड लें, ताकि झटको से वह खिसके नही।

6- कोई मजबूत चीज न हो तो किसी मजबूत दीवार से सटकर शरीर के नाजुक हिस्से जैसे सिर, हाथ आदि को मोटी किताब या किसी मजबूत चीज से ढककर घुटनों के बल टेक लगाकर बैठ जाएं।

7-खुलते बन्द होते दरवाजे के पास खडे न हो वरना चोट लग सकती है।

8-गाडी में हैं तो बिल्डिंग, होर्डिंग्स, खम्बों, फ्लाई-ओवर, पुल आदि से दूर सडक के किनारे या खुले में गाडी रोक लें, और भूकम्प रूकने तक इंतजार करें।

9- बाहर जाने के लिए लिफ्ट की बजाय सीडिंयों का इस्तेमाल करें।

10-भूकम्प के सम्बन्ध में किसी प्रकार की अफवाहों से बचें।

The post उत्तराखंड में आज फिर भूकंप, पिछले महीने भी 04 बार आया भूकंप, लगातार झटकों से लोगों में दहशत appeared first on Bharatjan Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar.

error: कॉपी नहीं, शेयर कीजिए!