December 4, 2022

उत्तराखंड जन

जन-जन की आवाज..

कांग्रेस ने भाजपा के घोषणा पत्र को बताया दृष्टिदोष पत्र, जानिए क्‍या बोले गौरव वल्लभ

देहरादून: कांग्रेस ने भाजपा के घोषणापत्र को दृष्टि दोष पत्र करार दिया है। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता प्रो गौरव वल्लभ ने कहा कि जुमलों और धोखे का संकलन दृष्टि नहीं, दृष्टि दोष पत्र कहलाता है। भाजपा ने रोजगार के सृजन, महंगाई से निजात दिलाने और पलायन को लेकर चुप्पी साधी है।

प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में बुधवार को पत्रकारों से बातचीत में कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रो गौरव वल्लभ ने भाजपा की ओर से जारी घोषणापत्र पर तीखे सवाल दागे। उन्होंने कहा कि आखिर चुनाव से चार दिन पहले भाजपा को दृष्टि दोष पत्र जारी करना याद आ ही गया। इसमें कुछ वाक्य और योजनाएं तो भाजपा के 2017 के घोषणापत्र से अक्षरश: ली गई हैं। इससे स्पष्ट हो गया कि तीन तिगाड़ा काम बिगाड़ा सरकार ने पांच वर्ष में स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर करने, महंगाई और पलायन की समस्या से निजात दिलाने को कुछ नहीं किया।

उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के लोग तीन प्रमुख समस्याओं बेरोजगारी, महंगाई और पलायन से जूझ रहे हैं। भाजपा ने इस बारे में एक भी ठोस नीति का उल्लेख नहीं किया है। कुछ चुनिंदा व्यक्तियों को तीन निश्शुल्क सिलिंडर की देने की घोषणा वैसा ही जुमला है, जैसा देश में दो करोड़ नौकरी के सृजन का था। कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में राज्य के सभी 24 लाख परिवारों को 950 रुपये के गैस सिलिंडर को 500 रुपये के अंदर उपलब्ध कराने का वायदा किया है। भाजपा का चुना हुआ परिवार सालाना 10 सिलिंडरों का उपभोग करता है तो उसे सात सिलिंडरों के लिए कांग्रेस के वायदे की तुलना में बड़ी धनराशि चुकानी होगी।

उन्होंने कहा कि भाजपा ने हर जिले में कम से कम एक मेडिकल कालेज की 2017 की बात फिर दोहराई है। कांग्रेस ने दुर्गम इलाकों में ड्रोन से दवाइयों की डिलीवरी, एयर एंबुलेंस, बाइक एंबुलेंस व टेलीमेडिसिन के माध्यम से राज्य के मरीजों की सेवा की प्रतिज्ञा ली है। प्रो गौरव वल्लभ ने कहा कि मुख्यमंत्री के संरक्षण में अवैध खनन हो या धर्मनगरी हरिद्वार में कोरोना टेस्टिंग घोटाला, भाजपा सरकार ने सिर्फ घोटालों का कोहराम मचाया है। भाजपा के घोषणापत्र में मुख्यमंत्री की नई फोटो के अलावा कुछ नहीं है।

error: कॉपी नहीं, शेयर कीजिए!