1 March 2024

जिला कांग्रेस ने डॉ भीमराव अम्बेडकर की पुण्य तिथि पर उनके दिए गए योगदान को किया याद

 
कोटद्वार। जिला कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने देश के संविधान निर्माता बाबा साहब डॉ. भीमराव अंबेडकर की पुण्य तिथि पर पार्टी कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में उनको श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा कि बाबा साहेब का जन्म एक महार दलित परिवार में हुआ था । अंबेडकर जैसे-जैसे बड़े होते गए उनके मन में समाज में व्याप्त जात-पात और इसके नाम पर शोषण के खिलाफ आक्रोश बनता गया। स्कूल के समय से ही उनको भेदभाव और अस्पृश्यता का सामना करना पड़ा था। कहा कि विश्व में जिस भारतीय लोकतंत्र की तारीफ की जाती है वह भी अंबेडकर के विचारों से ही संभव हुआ।
उन्होंने अन्य साथियों के साथ 2 साल 11 महीने 17 दिन में भारतीय संविधान का निर्माण किया जो समता, समानता, बन्धु  मानवता पर आधारित था। इस संविधान में उन्होंने हर किसी को बराबरी और पलने-बढ़ने का न्यायपूर्ण हक दिया। वह स्वतंत्र भारत के पहले कानून मंत्री बने। 6 दिसंबर 1956 को उन्होंने दुनिया को अलविदा कहा। उन्हें मरणोपरांत भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से नवाजा गया था। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष विनोद डबराल, जिलाध्यक्ष महिला कांग्रेस रश्मि पटवाल, बलबीर सिंह रावत, रंजना रावत, नीलम रावत, सुधा असवाल, अमित राज सिंह और सुवेग जोशी सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।