7 December 2023

चंद्रग्रहण सूतक के चलते बदरी- केदार सहित अधीनस्थ मंदिर हुए बंद, 29 अक्टूबर रविवार ब्रह्ममुहुर्त में शुद्धिकरण पश्चात पूजा अर्चना होगी शुरू

 
श्री बदरीनाथ/ केदारनाथ धाम । देशव्यापी चंद्रग्रहण के दौरान श्री बदरीनाथ तथा श्री केदारनाथ मंदिर सहित श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के सभी अधीनस्थ मंदिर आज शनिवार 28 अक्टूबर शांय 4 बजे बंद हो गये। श्री बदरीनाथ- केदारनाथ मंदिर समिति अध्यक्ष अजेंद्र अजय ने यह जानकारी दी है। बताया कि यद्यपि ग्रहण काल का समय 28 अक्टूबर रात्रि 1 बजकर 4 मिनट है अत: नौ घंटे पहले सूतककाल प्रारंभ होने के चलते दोनों मंदिर तथा मंदिर समिति के सभी अधीनस्थ मंदिर 28 अक्टूबर शायंकाल 4 बजे बंद हो गये जबकि  कल29 अक्टूबर रविवार को प्रात: शुद्धिकरण पश्चात मंदिर पूर्ववत ब्रह्ममुहुर्त में खुलेंगे तथा  महाभिषेक, रूद्राभिषेक सहित सभी  प्रात:कालीन पूजाये अपने नियत समय पर होंगी। बीकेटीसी मुख्य कार्याधिकारी योगेन्द्र सिंह ने बताया  केदारनाथ मंदिर भी ग्रहणकाल सूतक में नियत समय बंद हुआ इस अवसर पर पुजारी शिवलिंग, कार्याधिकारी आरसी तिवारी मौजूद रहे। 
मीडिया प्रभारी डॉ. हरीश गौड़ ने बताया कि श्री बदरीनाथ सहित सभी अधीनस्थ मंदिर ग्रहण सूतक  के चलते बंद कर दिये गये है श्री बदरीनाथ मंदिर शयन आरती के बाद बंद हुआ  रावल ईश्वर प्रसाद नंबूदरी सहित धर्माधिकारी राधाकृष्ण थपलियाल ने कपाट बंद किये।
इस अवसर पर प्रभारी मंदिर अधिकारी राजेंद्र सेमवाल, मीडिया प्रभारी डॉ. हरीश गौड़ बडुवागण  विपुल डिमरी, पंकज डिमरी मौजूद रहे।