December 2, 2022

उत्तराखंड जन

जन-जन की आवाज..

nainital

नैनीताल: बजट न मिलने से खफा नगर पालिका अध्यक्ष सचिन नेगी, 21 सितंबर को करेंगे आमरण अनशन

ललित जोशी
नैनीताल। उत्तराखंड सरकार से खफा हो रहे नगर पालिका अध्यक्ष व सभासदों ने यहाँ सरोवर नगरी नैनीताल के नगर पालिका के आगे सांकेतिक धरना दिया। अध्यक्ष सचिन नेगी व सभासदों ने सरकार को चेतावनी दी है, अगर शीघ्र बजट नही मिला तो वह 21 सितम्बर से आमरण अनशन करने के लिये ततपर रहगें।

उक्त जानकारी अध्यक्ष प्रतिनिधि हरीश चंद्र मेलकानी ने इस संवाददाता को दी। उन्होंने बताया 11 बजे से चार बजे तक सांकेतिक धरना दिया जायेगा।21 सितंबर को सभासदों व निकाय कर्मचारियों एवं सफाई कर्मचारियों ने भी आमरण अनशन की चेतावनी दे डाली है ।मंगलवार से धरना प्रदर्शन को सफल बनाने की हामी भरी है।

अध्यक्ष सचिन नेगी ने सरकार पर आरोप लगाया प्रदेश सरकार जानबूझकर कर नगर पालिका नैनीताल के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है।नेगी ने कहा शासन से नगर पालिका को बजट आवंटित नही किए जाने को लेकर सोमवार को नगर पालिकाध्यक्ष सचिन नेगी सहित सभी सभासद नगर पालिका प्रांगण में अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए हैं। पालिकाध्यक्ष सचिन नेगी ने कहा है कि मांगे पूरी ना होने पर आगामी सोमवार से भूख हड़ताल पर बैठ जाएंगे और इसकी जिम्मेदारी शासन की होगी।

उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के चलते पालिका वित्तीय संकट से जूझ रही है। पूर्व से ही पालिका के सेवानिवृत्त कर्मचारियों की पेंशन और एरियर का करीब 9 करोड़ रुपया बकाया है। इधर कोरोना के चलते विभिन्न साधनों से होने वाली करीब चार करोड़ का अब तक पालिका को नुकसान हो चुका है।

पालिकाध्यक्ष ने कहा कि पूर्व में पालिका की ओर से कई बार शासन से इस बकाएदारी चुकाने के लिए शासन से बजट की मांग की जा चुकी है। बीते दिनों ही पालिकाध्यक्ष खुद बजट की मांग को लेकर शासन स्तर पर वार्ता कर चुके है, लेकिन कई बार मांगो के बावजूद शासन से बजट नहीं मिला। अब पालिकाबोर्ड ने सरकार के खिलाफ ही मोर्चा खोल दिया है। ईधर कर्मचारी संगठनों ने भी मंगलवार से धरना कार्यक्रम को पूरा समर्थन देने की घोषणा की है।

error: कॉपी नहीं, शेयर कीजिए!