February 7, 2023

उत्तराखंड जन

जन-जन की आवाज..

विश्व एड्स दिवस पर आयोजित होंगे जन जागरूकता कार्यक्रम, स्वास्थ्य मंत्री देहरादून से करेंगे शुभारंभ

  • विश्व एड्स दिवस पर आयोजित होंगे जन जागरूकता कार्यक्रमः डॉ0 धन सिंह रावत
  • एचआईवी एड्स के प्रति लोगों को किया जायेगा जागरूक
  • जनपद स्तर पर निकाली जायेंगी रैली, अस्पतालों में होंगी गोष्ठियां
  • स्वास्थ्य मंत्री देहरादून से करेंगे जागरूकता रैली का शुभारंभ

देहरादून: विश्व एड्स दिवस के अवसर पर उत्तराखंड एड्स नियंत्रण समिति के माध्यम से प्रदेशभर में एड्स के प्रति व्यापक स्तर पर जन जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। जिसके अंतर्गत जनपद स्तर पर जहां रैलियां निकाली जायेगी वहीं अस्पतालों में गोष्ठियां आयोजित की जायेगी। सूबे के स्वास्थ्य मंत्री डॉ0 धन सिंह रावत गुरूवार को देहरादून के गांधी पार्क में राज्य स्तरीय एड्स जागरूकता रैली को हरी झंडी दिखाकर इसका शुभारम्भ करेंगे। जागरूकता कार्यक्रमों के माध्यम से प्रदेशभर में आम जनमानस को एचआईवी एड्स के प्रति जागरूक किया जायेगा।

चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ0 धन सिंह रावत ने बताया कि विश्व एड्स दिवस के अवसर पर उत्तराखंड एड्स नियंत्रण समिति के माध्यम से प्रदेशभर में जागरूकता कार्यक्रम संचालित किये जायेंगे। उन्होंने बताया कि वह गुरूवार को देहरादून के गांधी पार्क में राज्य स्तरीय जागरूकता रैली का शुभारम्भ करेंगे। इस अवसर पर वह रैली को झंडी दिखा कर रवाना करेंगे।

डॉ0 रावत ने कहा कि जागरूकता कार्यक्रमों के तहत जनपद स्तर पर रैलियां निकाली जायेगी जबकि अस्पतालों में गोष्ठियां आयोजित की जायेगी, इसके लिये सभी अधिकारियों को जरूरी निर्देश दे दिये गये हैं। उन्होंने कहा कि जागरूकता कार्यक्रमों के माध्यम से लोगों को एचआईवी एड्स के प्रति जागरूक किया जायेगा। विभागीय मंत्री ने बताया कि एचआईवी एड्स की जानकारी एवं बचाव के लिये प्रदेशभर में 164 आईसीटीसी केन्द्र स्थापित किये गये हैं। जिसमें लोगों को एचआईवी संबंधी निःशुल्क जांच की सुविधा उपलब्ध की जा रही है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में 7 एआरटी केन्द्रों के माध्यम से एचआईवी से ग्रसित 5580 व्यक्तियों को निःशुल्क परामर्श एवं दवाएं दी जा रही हैं।

डॉ0 रावत ने बताया कि एड्स नियंत्रण कार्यक्रम के तहत प्रदेशभर में उच्च जोखिम समूहों को चिन्हित कर एचआईवी/एड्स जागरूकता एवं जांच संबंधी कार्यक्रम लगातार संचालित किये जा रहे हैं, इस मुहिम में गैर सरकारी संस्थाओं का सहयोग भी लिया जा रहा है। इसके अलावा एचआईवी एड्स के प्रति युवाओं को जागरूक करने के उद्देश्य से कॉलेजों एवं शैक्षणिक संस्थानों में रेड रिबन क्लबों की स्थापना की गई है। जिनके जारिये समय-समय पर जागरूकता अभियान संचालित किये जा रहे हैं। डॉ0 रावत ने बताया कि जिला चिकित्सालय कोरोनेशन देहरादून में आईसीटीसी लैब स्थापित कर दी गई है जिसे गुणवत्ता जांच हेतु भारत सरकार द्वारा एनएबीएच प्रामण पत्र प्रदान किया गया है।

विभागीय मंत्री ने कहा कि एचआइवी-एड्स के प्रसार को रोकने के लिए प्रदेश में हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं साथ ही उन्होंने कहा कि एड्स के प्रति जागरूकता के लिए आमजन की सहभागिता भी सुनिश्चित की जानी होगी।