December 2, 2022

उत्तराखंड जन

जन-जन की आवाज..

हरीश रावत की नाराजगी से कांग्रेस में मचा है भूचाल, पूर्व सीएम और यूकेडी नेताओं की मुलाकात से बढ़ी सियासी हलचल

देहरादूनः कांग्रेस के कद्दावर नेता और पूर्व सीएम हरीश रावत के बेबाक बयान से राजनीतिक हलचल मची हुई है। वहीं इस बीच हुई एक के बाद एक घटना ने प्रदेश की राजनीति को एक नया मोड दे दिया है। इसके अलावा प्रदेश की क्षेत्रीय पार्टी उत्तराखंड क्रांति दल के नेताओं की पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत से मुलाकात एक नये राजनीतिक हलचल की ओर इशारा भी कर रही है। इसके बाद अब हरीश रावत के बदले तेवरों को लेकर उन पर सभी की निगाहें टिक गई है।

बता दें कि, उत्तराखंड कांग्रेस में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। यह बात तो हरीश रावत के उस ट्वीट से साफ हो जाती है, जिसमें उन्होंने अपनी ही पार्टी संगठन और पार्टी के शीर्ष नेताओं पर कटाक्ष किए हैं। हरीश रावत के इस बदले हुए तेवरों को लेकर न केवल कांग्रेस पार्टी में बड़े नेताओं की नजर उन पर है, बल्कि भाजपा समेत तमाम दलों की भी निगाहें उनके आगामी रणनीति पर बनी हुई है। इस बीच पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत से मिलने के लिए उनके घर उत्तराखंड क्रांति दल के नेताओं का पहुंचना इस राजनीति को और भी गर्म कर रहा है।

दरअसल खबर है कि, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत से मिलने के लिए उनके घर पर उत्तराखंड क्रांति दल के वरिष्ठ नेता काशी सिंह ऐरी और पुष्पेश त्रिपाठी समेत कुछ और नेता भी पहुंचे थे। बताया जा रहा है कि इस मुलाकात का मकसद मौजूदा घटनाक्रम से जुड़ा हुआ है और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने इन नेताओं से प्रदेश की मौजूदा राजनीतिक घटनाक्रम और स्थितियों को लेकर बातचीत की है।

बता दें कि हरीश रावत ने अपने ट्विटर अकाउंट पर संगठन और शीर्ष नेताओं पर चुनाव के समय में भी साथ न देने की पोस्ट कर है। यही नहीं उनके मीडिया सलाहकार ने तो प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव पर खुले रूप से कई आरोप लगाए और भाजपा के हाथों में पार्टी के कुछ नेताओं के फैसले और कांग्रेस को आगामी चुनाव में सत्ता से दूर रखने के लिए प्रयास किए जाने तक की बात कही है। पार्टी के भीतर इस तरह की गतिविधियों के बीच हरीश रावत का यूकेडी के नेताओं से मिलना एक नए समीकरण को जन्म दे रहा है।

error: कॉपी नहीं, शेयर कीजिए!