16 April 2024

शहीद जगदीश प्रसाद पुरोहित राजकीय महाविद्यालय नंदानगर में उद्यमिता विकास कार्यक्रम के तहत स्थानीय उद्यम की संभवानाओं के बारें में दी जानकारी

नंदानगर : शहीद जगदीश प्रसाद पुरोहित राजकीय महाविद्यालय नंदानगर (घाट) में देवभूमि उद्यमिता योजना के अंतर्गत 12 दिवसीय उद्यमिता विकास कार्यक्रम का दूसरा दिन सफल रहा। इस कार्यक्रम में महाविद्यालय के 45 छात्र-छात्राओं ने प्रतिभाग किया । राकेश मैठाणी ने प्रथम सत्र में नए उद्यमों के लिए नवाचार की महत्ता एवं खादी ग्राम उद्योग और स्वयं सहायता समूह जैसी एजेंसियों के बारे में व्याख्यान दिया। साथ ही छात्रों ने स्थानीय उद्यम की संभवाना से अवगत कराया । धूप बत्ती बनाना,कद्दू एवं खीरे की बडियां बनाना एवं बिना कैमिकल का प्रयोग कर उन्हें लम्बे समय तक संग्रह करना आदि तरीकों की जानकारी दी ।
दूसरा सत्र जयदीप किशोर द्वारा लिया गया उन्होंने उद्यम की आवश्यकताओं की पहचान करना बताया । उदाहरणस्वरूप उन्होंने बताया कि जटा मासी(एक प्रकार की जड़ी) एवं टिमर जैसे पौधे की जरूरतों से अवगत कराया एवं इन्हें व्यवसाय के रूप इसकी संभवानाएं बताई । यह कार्यक्रम उच्च शिक्षा विभाग, उत्तराखण्ड सरकार द्वारा संचालित किया जा रहा है। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ.अब्दुल अहद द्वारा की जाएगी । इस कार्यक्रम का उद्देश्य उत्तराखण्ड में घरेलू उत्पादों से उद्यमिता का विकास करना है इससे स्वरोजगार की संभावनाओं को बढ़ना है। भारतीय उद्यमिता विकास संस्थान,अहमदाबाद के साथ मिलकर उद्यमिता विकास कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। महाविद्यालय की नोडल डॉ. दीपा के साथ पुस्तकालय प्रभारी प्रतिभा कठैत, भरत बिष्ट, मनमोहन भंडारी एवं राजू के सहयोग से कार्यक्रम सफलतापूर्वक आयोजित हुआ ।