22 June 2024

अपर मुख्य सचिव आनंद वर्धन ने केदारनाथ धाम में दर्शन करने पहुंच रहे तीर्थ यात्रियों के लिए जिला प्रशासन एवं विभिन्न विभागों की ओर से की जा रही सुविधाओं एवं व्यवस्थाओं का लिया जायजा, दिए निर्देश

रुद्रप्रयाग : जनपद भ्रमण पर पहुंचे अपर मुख्य सचिव आनंद वर्धन ने केदारनाथ धाम में दर्शन करने पहुंच रहे तीर्थ यात्रियों के लिए जिला प्रशासन एवं विभिन्न विभागों की ओर से की जा रही सुविधाओं एवं व्यवस्थाओं का जायजा लिया। जनपद आगमन पर जिलाधिकारी सौरभ गहरवार एवं पुलिस अधीक्षक विशाखा भदाणे ने स्वागत किया। चारधाम यात्रा में आ रहे श्रद्धालुओं को सभी आवश्यक मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करायी जायें। जनपद भ्रमण पर पहुंचे अपर मुख्य सचिव ने केदारनाथ धाम में दर्शन करने पहुंच रहे श्रद्धालुओं के लिए जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन द्वारा श्रद्धालुओं के लिए उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं एवं व्यवस्थाओं का जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक के साथ बैठक कर जानकारी प्राप्त की। उन्होंने जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिये है कि चारधाम यात्रा पर भारी संख्या में श्रद्धालु दर्शन करने आ रहे हैं, दर्शन करने पहुंच रहे तीर्थ यात्रियों को कोई असुविधा न हो उन्हें सभी आधारभूत सुविधाएं उपलब्ध कराई जायें। मुख्यमंत्री द्वारा चारधाम यात्रा की नियमित समीक्षा की जा रही है, उन्होंने निर्देश दिये है कि सबसे पहले अधिक ध्यान सुरक्षित यात्रा पर दिया जाय।
उन्होंने यह भी निर्देश दिये हैं कि केदारनाथ धाम के मुख्य पडाव सीतापुर, सोनप्रयाग आदि स्थानों पर पार्किंग फुल हो जाती है, तो यात्रियों को पहले ही सुरक्षित स्थानों पर रोका जाय, तथा उनके लिए ठहरने की उचित व्यवस्था की जाय। उन्होंने यह भी कहा कि यात्रा मार्ग से लेकर केदारनाथ धाम तक साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखा जाय, तथा तीर्थ यात्रियों को चिकित्सा सुविधा का भी विशेष ध्यान रखा जाए, उन्होंने यात्रा मार्ग एवं धाम में पेयजल एवं विद्युत आपूर्ति बाधित होने  पर उसे त्वरित गति से सुचारु किया जाय। उन्होंने यात्रा मार्ग एवं  यात्रा मार्ग प्रमुख पड़ाव पर सुगम एवं व्यवस्थित यात्रा करने के लिए बेहतर ट्रैफिक प्लान तैयार कर जिससे कि यातायात व्यवस्था को सुव्यवस्थित ढंग से संचालित किया जा सके। उन्होंने केदारनाथ यात्रा मार्ग में संचालित हो रहे घोड़े-खच्चरों के संबंध में भी जानकारी प्राप्त करते हुए कहा कि किसी भी घोड़े खच्चर के साथ कोई पशु कुरता न हो इसका विशेष ध्यान रखा जाय।
यात्रा व्यवस्थाओं की समीक्षा के दौरान अपर मुख्य सचिव ने पाया कि जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन द्वारा केदारनाथ धाम में पहुंच रहे श्रद्धालुओं को उपलब्ध करायी जा रही सुविधाओं एवं व्यवस्थाओं की प्रशंसा की, उन्होंने कहा कि वर्तमान में जो व्यवस्था उपलब्ध कराई जा रही हैं वह बेहतर है किन्तु भारी संख्या में आ रहे श्रद्धालुओं के लिए व्यवस्थाओं एवं सुविधाओं को और अधिक बेहतर करने के लिए सभी अधिकारी आपसी समन्वय के साथ कार्य करें।
जिलाधिकारी सौरभ गहरवार ने जिला प्रशासन एवं विभिन्न विभागों के माध्यम से सुगम एवं व्यवस्थित यात्रा संचालित करने के लिए यात्रियों के लिए उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं एवं व्यवस्था के संबंध में जानकारी देते हुए कहा कि वर्तमान समय में केदारनाथ धाम में भारी संख्या में श्रद्धालु पहुंच रहे हैं, तथा सभी विभागों द्वारा यात्रियों के लिए सभी आवश्यक मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही है। उन्होंने कहा कि सोनप्रयाग पार्किंग फुल होने पर यात्रियों की सुरक्षा एवं सुविधा के लिए यात्रियों को अगस्त्यमुनि में ही रोका जा रहा है, तथा अगस्त्यमुनि खेल मैदान में यात्रियों की ठहरने एंव पार्किग की उचित व्यवस्था की गयी है। यात्रियों का स्वास्थ्य खराब होने एवं किन्ही कारण से घायल होने की स्थिति में त्वरित उपचार किये जाने के लिए यात्रा मार्ग से केदारनाथ धाम तक 12 स्थानों पर एम.आर.पी. खोली गयी है। यात्रियों की सुरक्षा हेतु यात्रा मार्ग से केदारनाथ धाम तक पर्याप्त सुरक्षा बल तैनात किये गये हैं। यात्रा मार्ग में जाम की स्थिति न हो इसके लिए यात्रा मार्ग के 09 स्थलों पर पार्किंग स्थल तैयार किये गये हैं। यात्रा मार्ग में संचालित हो रहे घोड़े खच्चरों के लिए म्यूल टास्क फोर्स गठित की गयी है इसके साथ ही सेक्टर अधिकारी तैनात किये गये हैं। जिनके द्वारा निरंतर घोड़े खच्चरों की निगरानी की जा रही है। उन्होंने कहा कि केदारनाथ यात्रा मार्ग से लेकर धाम तक जिला पंचायत, नगर पालिका, नगर पंचायत एवं सुलभ इंटरनेशनल के पर्यावरण मित्रों द्वारा निरंतर साफ-सफाई व्यवस्था की जा रही है।
इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक ने जानकारी देते हुए कहा कि पुलिस द्वारा यातायात संचालित करने के लिए निरंतर कार्य किया जा रहा है, तथा भारी संख्या में श्रद्धालु आने पर सुगम एवं व्यवस्थित करने के लिए विभिन्न स्थानों पर चेक पोस्ट बनाये गये है, तथा यात्रा मार्ग से लेकर केदारनाथ धाम तक सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद की गयी है, तथा केदारनाथ धाम में दर्शन करने के लिए आ रहे श्रद्धालुओं की लाइन लगाकर सुव्यवस्थित ढंग से दर्शन कराये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस द्वारा ऑपरेशन मुस्कान के तहत कार्य किया जा रहा है, तथा अपनो से बिछड रहे श्रद्धालुओं को उनके परिजनों से मिलाया जा  रहा है, यदि किसी श्रद्धालुओं का कोई सामान खो जा रहा है तो उसे भी वापिस किया जा रहा है, इसमे पुलिस द्वारा निरंतर कार्य किया जा रहा है। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी जी.एस. खाती, उपजिलाधिकारी रुद्रप्रयाग आशीष घिडियाल, ऊखीमठ अनिल शुक्ला सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।