25 February 2024

बाबा श्री केदारनाथ धाम की यात्रा की तैयारियों में जुटा जिला प्रशासन, डीएम सौरभ गहरवार ने अधिकारियों के साथ किया राष्ट्रीय राजमार्ग सहित अन्य व्यवस्थाओं का निरीक्षण, दिए निर्देश

 

यात्रा मार्ग में लगने वाले जाम से निजात दिलाने के लिए किए पार्किंग स्थल चिन्हित

यात्रा मार्ग में अवैध रूप से बनाए गए टिन शेड एवं दुकानों को दिए हटाने के निर्देश

यात्रा मार्ग में निरंतर साफ-सफाई व्यवस्था बनाए रखने के दिए निर्देश

यात्रा मार्ग में संचालित किए जाएंगे आचंल डेयरी के आउट लेट एवं मिल्क बूथ, चिन्हित किए गए स्थल

रुद्रप्रयाग : आगामी वर्ष 2024 की श्री केदारनाथ धाम यात्रा को सुगम एवं सुव्यवस्थित ढंग से संचालित करने के लिए तथा केदारनाथ धाम में दर्शन करने पहुंचने वाले तीर्थ यात्रियों को सभी सुविधाएं एवं व्यवस्थाएं चाक-चैबंद हो इसके लिए जिला अधिकारी सौरभ गहरवार ने संबंधित अधिकारियों के साथ राष्ट्रीय राजमार्ग सहित यात्रा मार्ग के विभिन्न पड़ावों का गौरीकुंड तक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि जिस स्तर से जो भी सुविधांए एवं व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराई जानी हैं वह यात्रा शुरू होने से पहले पूर्ण कर ली जाएं। इसमें किसी भी तहत से कोई लापरवाही एवं शिथिलता न बरती जाए।

राष्ट्रीय राजमार्ग में कई स्थानों पर चिन्हित की पार्किंग स्थल

यात्रा मार्ग में लगने वाले जाम से निजात दिलाने के लिए जिलाधिकारी ने यात्रा मार्ग में मस्ता गांव में आर्यन हैलीपैड के समीप, बगड़वाल धार नारायण कोटी, कोरखी, मैखंडा, रामपुर डाट पुलिया, सोनप्रयाग जीएमवीएन गेस्ट हाउस के समीप सहित आदि स्थानों पर पार्किंग स्थल चिन्हित किए गए। उक्त स्थलों पर पार्किंग तैयार किए जाने के लिए जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता राष्ट्रीय राजमार्ग, ग्रामीण निर्माण विभाग, पर्यटन विभाग को तत्परता से आवश्यक कार्यवाई करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही जामू स्थित पुलिस बैरियर के पास वन पंचायत की भूमि पर वन विभाग के साथ मिलकर ईको टूरिज्म योजना के तहत सौंदर्यीकरण, हट एवं दुकानें तैयार करने का प्रस्ताव उपलब्ध कराने के निर्देश संबंधित विभागों को दिए।

राष्ट्रीय राजमार्ग में चल रहे निर्माण कार्यों को शीघ्रता से पूर्ण करने के दिए निर्देश

केदारनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग का निरीक्षण करते हुए जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता राष्ट्रीय राजमार्ग को निर्देश दिए हैं कि सड़क मार्ग का जो भी निर्माण कार्य किया जा रहा है उस कार्य को त्वरित गति से गुणवत्ता व समयबद्धता के साथ पूर्ण करना सुनिश्चित करें। जो भी रोड कटिंग का कार्य किया जा रहा है उस कार्य को शीघ्रता से पूर्ण करना सुनिश्चित करें तथा नालियों का भी निर्माण सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने ब्यूंग गाड़ झरने के पास निर्माणाधीन पुल को त्वरित गति से कार्य करते हुए माह अप्रैल, 2024 के अंतिम सप्ताह तक अनिवार्य रूप से पूर्ण करने के निर्देश दिए। यदि समयबद्धता के साथ पुल का कार्य पूर्ण नहीं किया जाता है तो संबंधित कार्यदायी संस्था के विरुद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी। कोरखी में भू-स्खलन क्षेत्र में भी सुरक्षा दीवार का कार्य आगामी 25 जनवरी से शुरू करने के निर्देश दिए।

घोड़े-खच्चरों एवं हाॅकरों के लिए शेड व आवास तैयार करने के दिए निर्देश

केदारनाथ यात्रा मार्ग में संचालित हो रहे घोड़े-खच्चरों एवं उनके हाॅकरों को रहने के लिए उचित प्रबंधन करने के लिए जिलाधिकारी ने सोनप्रयाग त्रियुगीनारायण मार्ग पर जीएमवीएन के समीप घोडे़-खच्चरों के लिए शेड एवं हाॅकरों के लिए डोरमैट्री आवास एवं सोनप्रयाग में घोड़े-खच्चरों के लिए शेड का प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश अधिशासी अभियंता डीडीएमए को दिए तथा घोड़े-खच्चरों की लीद का उचित निस्तारण हेतु सेफ्टिक टैंक तैयार करने हेतु सुलभ इंटरनेशल को निर्देश दिए।

जिला पंचायत को दिए यात्रा मार्ग में साफ-सफाई के निर्देश

निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने गुप्तकाशी बाजार में कूड़े का ढेर लगा होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कनिष्ठ अभियंता जिला पंचायत के वेतन रोकने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने अवर अभियंता को निर्देश दिए हैं कि यात्रा मार्ग में साफ-सफाई का बेहतर ध्यान रखा जाए। इसमें किसी भी तरह की कोई शिथिलता एवं लापरवाही नहीं होनी चाहिए तथा सोनप्रयाग पार्किंग में भी बेहतर साफ-सफाई के साथ आधुनिक लाईट एवं हाईमास्क लाईट लगवाने के लिए आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही पार्किंग एवं जिला पंचायत की भूमि एवं एनएच से सभी अतिक्रमण होने पर संयुक्त रूप से हटाने के निर्देश दिए। साथ ही सोनप्रयाग पार्किंग स्थल की दीवारों पर पैंटिंग कराने के भी निर्देश दिए। वहीं वाहनों की आवाजाही पर निगरानी के लिए जीमेक्स कंपनी के साथ पार्किंग स्थलों पर कंप्यूटराइज सिस्टम तैयार करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने सोनप्रयाग पार्किंग में कार्य कर रही निर्माणदायी एजेंसी को पार्किंग स्थल पर निष्प्रयोज्य सामग्री को हटाते हुए 30 अप्रैल, 2024 तक अनिवार्य रूप से कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए।

यात्रा मार्ग में संचालित होंगे आंचल डेयरी के आउटलेट एवं मिल्क बूथ

जनपद में दुग्ध व्यवसाय को प्रोत्साहित करने एवं उन्हें उचित बाजार उपलब्ध कराए जाने के उद्देश्य से श्री केदारनाथ यात्रा मार्ग पर आंचल डेयरी के आउटलेट एवं मिल्क बूथ संचालित होंगे। इसके लिए जिलाधिकारी ने यात्रा मार्ग पर स्थान चिन्हित करते हुए डेयरी विभाग को आउटलेट एवं मिल्क बूथ बनाने का प्रस्ताव उपलब्ध कराने के निर्देश दिए ताकि इन स्थलों पर आंचल डेयरी के दूध एवं उत्पाद केदारनाथ यात्रा मार्ग में दर्शन करने आने वाले तीर्थ यात्रियों को उपलब्ध कराया जा सके।

निरीक्षण के दौरान जिला विकास अधिकारी अनीता पंवार, अधिशासी अभियंता राष्ट्रीय राजमार्ग निर्भय सिंह, ग्रामीण निर्माण विभाग मीनल गुलाटी, डीडीएमए विनय झिंक्वाण, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डाॅ. आशीष रावत, जिला पर्यटन अधिकारी राहुल चैबे, तहसीलदार ऊखीमठ दीवान सिंह राणा, जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी नंदन सिंह रजवार, निरीक्षक कोतवाल सोनप्रयाग देवेंद्र असवाल, वरिष्ठ निरीक्षक डेयरी श्रवण कुमार शर्मा, अवर अभियंता जिला पंचायत संजय, जीमैक्स प्रबंधक रोहित, वैयक्तिक अधिकारी ओमप्रकाश बिष्ट सहित संबंधित अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद रहे।