13 April 2024

कोटद्वार : AHTU ने परिवार से बिछड़ी 04 साल की मासूम को परिजनों से मिलवाया

कोटद्वार : एक व्यक्ति द्वारा एण्टी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट टीम को सूचना दी कि एक छोटी बालिका अपनी मां का नाम लेकर कोटद्वार बाजार में रोती बिलखती हुई घूम रही है लेकिन अपना पता नहीं बता पा रही है, इस सूचना पर तत्काल बिना समय गंवाये एण्टी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट टीम में तैनात महिला आरक्षी विद्या मेहता व आरक्षी सूर्यकांत द्वारा उक्त बालिका से प्यार से बात करके उसे चुप कराकर AHTU कार्यालय कोटद्वार लाये वहां पर बालिका को अपनेपन का एहसास दिलाकर पूछताछ की गयी तो उसने अपना नाम सानिया (काल्पनिक नाम) उम्र 4 वर्ष और माता का नाम सलमा बताया।

तत्पश्चात एण्टी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट टीम द्वारा आस-पास के क्षेत्रों बालिका के माता-पिता की गहनता से ढूंढखोज की गयी, लगातार आस पास लोगों से पूछने व कड़ी मेहनत करने के बाद बालिका के परिजनों को ढूंढ लिया गया। बालिका के परिजनों द्वारा बताया गया कि हम देहरादून से कोटद्वार अपने रिश्तेदारों के यहां शादी में आये थे काफी समय से अपनी बच्ची को ढूंढ रहे हैं परन्तु हमें कहीं भी इसका पता नहीं चल पाया। एएचटीयू टीम द्वारा सीडब्ल्यूसी की उपस्थिति में बालिका व उसके परिजनों की काउंसलिंग की गई, बाद काउंसलिंग सकुशल बालिका को उसके पिता बरकत अली, निवासी-आईएसबीटी, आजाद कॉलोनी, देहरादून के सकुशल सुपुर्द किया गया। बालिका के परिजनों द्वारा पौड़ी पुलिस का धन्यवाद ज्ञापित किया गया।

पुलिस टीम

  • महिला आरक्षी विद्या मेहता
  • आरक्षी सूर्यकांत सैनी