15 April 2024

शहीद जगदीश प्रसाद पुरोहित राजकीय महाविद्यालय नंदानगर में आयोजित EDP कार्यशाला के 07वें दिन मशरूम की खेती, भांग और कंडाली के रेशे बनाने वाले उद्यमियों से मिले छात्र

नंदानगर : मशरूम की खेती,भांग और कंडाली के रेशे बनाने वाले उद्यमियों से मिले नंदानगर महाविद्यालय के छात्र । 17 मार्च 2024 को शहीद जगदीश प्रसाद पुरोहित राजकीय महाविद्यालय नंदानगर (घाट) में देवभूमि उद्यमिता योजना के अंतर्गत 12 दिवसीय उद्यमिता विकास कार्यक्रम सातवें दिन छात्रों ने मशरूम की खेती करने वाले स्थानीय उद्यमी प्रेम सिंह राणा के यूनिट का दौरा किया । साथ ही छात्रों ने भांग के रेशे बनाने वाले भरत पाल एवं माधवी देवी जो ऊन,कंडाली(बिच्छू  घास) व भांग के रेशे से परिधान निर्मित करती हैं उनसे मुलाकात की और जाना कि कैसे रेशे बनाए जाते हैं इसमें आधुनिक मशीन और हस्तकरघा दोनों पद्धतियों की जानकारी प्राप्त की ।
डॉ. दीपा के साथ वक्ता कुलदीप नेगी और जयदीप किशोर ने छात्रों को बताया कि वे किस प्रकार सरकारी नीतियों से छात्र भी इन उद्यमों को शुरू कर सकते हैं। । यह कार्यक्रम उच्च शिक्षा विभाग. उत्तराखण्ड सरकार द्वारा संचालित किया जा रहा है। इस कार्यक्रम का उद्देश्य उत्तराखण्ड में घरेलू उत्पादों से उद्यमिता का विकास करना है इससे स्वरोजगार की संभावनाओं को बढ़ना है। भारतीय उद्यमिता विकास संस्थान,अहमदाबाद के साथ मिलकर उद्यमिता विकास कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है । इस प्रकार ईडीपी कार्यशाला को महाविद्यालय की नोडल डॉ दीपा के साथ महाविद्यालय की पुस्तकालय की प्रभारी प्रतिभा कठैत, भरत सिंह बिष्ट, राजू लाल, मनमोहन भंडारी एवं राहुल रावत ने मिलकर बाजार सर्वेक्षण व कार्यशाला को सफलपूर्वक संपन्न किया ।