27 May 2024

शोक सभा का आयोजन

 
कोटद्वार। आर्य गिरधारीलाल महर्षि दयानंद ट्रस्ट कोटद्वार के संस्थापक कोषाध्यक्ष बचन सिंह गुसाईं, 85 वर्ष, निवासी झंडीचौड़ पश्चिमी के आकस्मिक निधन पर श्री विश्वकर्मा सेवा समिति ने झंडीचौड़ पश्चिमी में एक शोक सभा का आयोजन किया जिसमें दो मिनट का मौन रखकर उनको भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई व उनकी आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की गई । 12 अप्रैल को प्रातः ब्रेन हैमरेज के कारण उन्हें बेस अस्पताल कोटद्वार में भर्ती किया गया जहां उन्होनें अंतिम सांस ली, अपरान्ह महर्षि कण्व की पावन भूमि कण्वाश्रम में मालिनी नदी के तट पर वैदिक रीति से उनका अंतिम संस्कार किया गया । उनके पुत्रगणों जय सिंह, विजय सिंह, गजेसिंह, नैन सिंह  व संतन सिंह ने चिता को मुखाग्नि दी ।
शोक व्यक्त करते हुए आर्य गिरधारीलाल महर्षि दयानंद ट्रस्ट के अध्यक्ष डॉ. सुरेन्द्रलाल आर्य ने कहा कि बचन सिंह गुसाईं ट्रस्ट के संस्थापक कोषाध्यक्ष थे वे ट्रस्ट के माध्यम से दीन दुखियों की सेवा के लिए तत्पर रहते थे, वे क्षेत्र वासियों के दुःख सुख से जुड़े रहते थे ।निवर्तमान पार्षद व पूर्व प्रधान सुखपाल शाह ने कहा कि गुसाईं जी 1997 में मध्यप्रदेश पुलिस से सेवानिवृत्ति के बाद ट्रस्ट, श्री विश्वकर्मा सेवा समिति के संरक्षक व वर्ड विज़न आदि संस्थाओं से जुड़े रहे व जनसरोकारों को समर्पित रहे जिसके लिए भारतीय दलित साहित्य अकादमी ने उन्हें कर्मबीर जयानन्द भारतीय स्मृति सम्मान – 2010 से सम्माननित किया गया था । शोक सभा को पूर्व प्रधान पूरण चंद्र शर्मा, पूर्व प्रधान पुष्पा शाह, पूर्व क्षेत्र पंचायत सदस्य बुद्धिप्रकाश, पूर्व प्रधान कृष्ण चन्द्र खंतवाल, पूर्व कोषाधिकारी टीका राम, हरि सिंह रावत ने संबोधित किया। शोक सभा मे चतर सिंह गुसाईं, पूर्व प्रधान केशर सिंह, बीर सिंह, ओमप्रकाश, जगत राम, चंद्रपाल शाह, भाग सिंह, रामसिंह आदि मौजूद रहे ।

You may have missed