19 April 2024

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रुद्रपुर बाईपास खंड की रखी आधारशिला, 1052 करोड़ रूपये से होगा 21 किलोमीटर लंबे इस एनएच प्रोजेक्ट का निर्माण

बीते तीन महीनों में लगभग 10 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा की परियोजनाएं या तो देश को समर्पित की जा चुकी हैं या फिर उनका शिलान्यास किया जा चुका है

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को उत्तराखंड समेत देशभर में करीब एक लाख करोड़ की 112 राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। आज हरियाणा के गुरूग्राम में एक लाख करोड़ की इन परियोजनाओं के कार्याक्रम में देशभर से लाखों लोग वर्चुअली जुड़े। इस अवसर पर पीएम नरेंद्र मोदी ने उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के बीच रुद्रपुर बाईपास खंड की आधारशिला भी रखी। इस एनएच परियोजना का निर्माण भारत माला परियोजना के तहत किया जाएगा जिसकी कुल लंबाई 21 किलोमीटर होगी। इसका निर्माण हाइब्रिड एनुविटी मोड पर किया जाएगा।

इस अवसर पर बोलते हुए, प्रधानमंत्री ने दिल्ली में कार्यक्रम आयोजित करने की संस्कृति से लेकर देश के अन्य हिस्सों में बड़े कार्यक्रम आयोजित करने की संस्कृति में बदलाव का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि आज देश ने आधुनिक कनेक्टिविटी की दिशा में एक और बड़ा और महत्वपूर्ण कदम उठाया है। ऐतिहासिक द्वारका एक्सप्रेसवे के हरियाणा खंड को समर्पित करने पर खुशी व्यक्त करते हुए, पीएम मोदी ने कहा कि यह दिल्ली और हरियाणा के बीच यात्रा के अनुभव को हमेशा के लिए बदल देगा और न केवल वाहनों में बल्कि क्षेत्र के लोगों के जीवन में भी बदलाव आएगा।

प्रधानमंत्री ने परियोजनाओं के कार्यान्वयन में गति में बदलाव पर जोर देते हुए कहा कि 2024 के तीन महीनों से भी कम समय में 10 लाख करोड़ रुपये से अधिक की परियोजनाएं या तो राष्ट्र को समर्पित की जा चुकी हैं या उनका शिलान्यास किया जा चुका है। आज एक लाख करोड़ रुपये से अधिक की 100 से अधिक परियोजनाओं में दक्षिण में कर्नाटक, केरल और आंध्र प्रदेश की विकास परियोजनाएं शामिल हैं, उत्तर में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और हरियाणा से संबंधित विकास कार्य हैं, पूर्व में बंगाल और बिहार की परियोजनाएं शामिल हैं। पश्चिम से महाराष्ट्र, पंजाब और राजस्थान की प्रमुख परियोजनाएँ हैं। प्रधानमंत्री ने कहा, आज की परियोजनाओं में अमृतसर भटिंडा जामनगर कॉरिडोर में 540 किलोमीटर की वृद्धि और बेंगलुरु रिंग रोड का विकास शामिल है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समस्याओं से संभावनाओं की ओर बदलाव पर प्रकाश डालते हुए बुनियादी ढांचे के विकास के परिवर्तनकारी प्रभाव पर जोर दिया। उन्होंने चुनौतियों को अवसरों में बदलने के महत्व को रेखांकित किया, जो उनके शासन की पहचान है।