17 June 2024

भारतीय नववर्ष के आगमन पर हुआ कार्यक्रमों का आयोजन

 
कोटद्वार। नव संवत्सर अभिनंदन समारोह समिति के तत्वाधान में राजकीय प्रेक्षागृह में आयोजित कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि पर्यावरणविद सच्चिदानंद भारती ने दीप जलाकर किया। उन्होंने कहा कि चैत्र शुक्ल प्रतिपदा का भारतीय संस्कृति में विशेष महत्व है। इसे सृष्टि का पहला दिन माना जाता है। कई शुभ कामों की शुरुआत इस दिन से हुई है। चैत्र शुक्ल प्रतिपदा से विक्रम संवत 2081 शुरू हो रहा है। उन्होंने कोटद्वार में आयोजित नववर्ष उत्सव को पूरे देश में अभिनव पहल करार दिया। नगर के विभिन्न विद्यालयों के छात्र- छात्राओं ने भारतीय संस्कृति के विविध रूपों को दर्शाते हुए मनमोहक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए ।