18 June 2024

एसपी रुद्रप्रयाग ने फर्जी पंजीकरण के नाम पर चल रहे काले कारोबार का किया भण्डाफोड़, यात्रियों की शिकायत पर एक ही दिन में कोतवाली रुद्रप्रयाग पर दर्ज किये गये 09 मुकदमे

  • रुद्रप्रयाग पुलिस की चेकिंग के दौरान फर्जी एवं कूटरचित पंजीकरण लेकर चल रहे यात्रियों की शिकायत पर एक ही दिन में कोतवाली रुद्रप्रयाग पर दर्ज किये गये 09 मुकदमे
  • फर्जी या कूटरचित पंजीकरण लेकर चलने वाले हो जायें सावधान, मुकदमा दर्ज कर पुलिस करेगी आवश्यक वैधानिक कार्यवाही
रुद्रप्रयाग : जनपद रुद्रप्रयाग में प्रचलित श्री केदारनाथ धाम यात्रा में अत्यधिक संख्या में श्रद्धालु एवं यात्री वाहन आ रहे हैं। केदारनाथ धाम के कपाट खुलने से लेकर आतिथि तक यानि मात्र 12 दिवसों में ही साढ़े तीन लाख से अधिक यात्री केदारनाथ धाम पहुंच चुके हैं। जबकि केदारनाथ धाम सहित यात्रा पड़ावों पर रुकने की एक निश्चित क्षमता है और जनपद में स्थित पार्किंगों की भी एक निश्चित क्षमता है। सबसे बड़ी बात कि सीतापुर व सोनप्रयाग स्थित पार्किंगों में किसी वाहन की एन्ट्री हो जाने के उपरान्त वाहन तीन दिन तक पार्किंग में ही रहता है। पार्किंग की एक निश्चित क्षमता होने तथा इससे निकासी काफी कम होने व बाहर से अत्यधिक संख्या में वाहनों के आने से यात्रा मार्ग पर अत्यधिक दबाव बढ़ रहा है। इस सम्बन्ध में स्थानीय प्रशासन व पुलिस के स्तर से समय-समय पर जानकारी साझा करते हुए आने वाले श्रद्धालुओं से अपना पंजीकरण के उपरान्त ही यात्रा पर आने की अपील की जा रही है। पुलिस के स्तर से बिना पंजीकरण अथवा बाद की तिथि के पंजीकरण वाले यात्रियों व वाहनों की चेकिंग निरन्तर की जा रही है। पुलिस के स्तर से की जा रही चेकिंग की मॉनीटरिंग स्वयं पुलिस अधीक्षक रुद्रप्रयाग के स्तर से भी की जा रही है। 
आज चेकिंग ड्यूटी पर नियुक्त पुलिस बल ने सख्ती के साथ चेकिंग की कार्यवाही की गयी। पुलिस बल के स्तर से जवाड़ी पर पहुंचे वाहनों में आये यात्रियों के पंजीकरण को पर्यटन विभाग की टीम के स्तर से नियुक्त स्कैन करने वाले कार्मिकों द्वारा चेक करने पर पाया तो यात्रियों द्वारा दिखाये जा रहे पंजीकरण एवं  पंजीकरण में अंकित तिथि में काफी अन्तर आ रहा है, जिससे स्पष्ट है कि बाद की तिथि के पंजीकरणों में कूट रचना करते हुए आजकल की तिथि हेतु उपयोग में लाया जा रहा है। पुलिस के स्तर से मौके पर सम्बन्धित यात्रियों एवं ट्रैवल्स एजेन्सी से पूछताछ करने पर इनके द्वारा गोल-मोल जवाब दिये जाने पर ऐसे प्रकरणों में नियमानुसार आवश्यक विधिक कार्यवाही हेतु नजदीकी कोतवाली रुद्रप्रयाग भिजवाया गया है। जहां पर कोतवाली रुद्रप्रयाग पुलिस के स्तर से ऐसे कुल 09 प्रकरणों में अभियोग पंजीकृत किया गया है। थाने पर आवश्यक पूछताछ में ज्ञात हुआ कि देश के अलग-अलग हिस्सों से श्री केदारनाथ धाम यात्रा पर आये यात्रियों को सम्बन्धित टूर ऑपरेटर, हरिद्वार क्षेत्र में मिले व्यक्तियों इत्यादि द्वारा धोखे में रखकर कूटरचित पंजीकरण दिये गये हैं, जिसका इनको आज पुलिस की चेकिंग में पता चला है। 

शिकायतकर्ताओं की शिकायतों का विवरण

  1. भिमाराव गंगाराम शिंदे पुत्र श्री गंगाराम निवासी ग्राम कोशलज थाना भाराम जिला हिजोली महाराष्ट्र को हरिद्वार निवासी राजेश नाम के व्यक्ति ने रजिस्ट्रेशन उपलब्ध कराये गये। इस व्यक्ति ने शिकायतकर्ता से दो बसों में लाये यात्रियों के रजिस्ट्रेशन कराने के एवज में तीन लाख पचास हजार रुपये की धनराशि भी ली गयी थी। इन रजिस्ट्रेशन के फर्जी होने की सूचना इनको आज चेकिंग के दौरान पता चली।
  2. धीरज कुमार पुत्र राम प्रकाश निवासी मीरानपुर, कटरा, शाहजहांपुर ने बताया कि हरिद्वार में किसी व्यक्ति ने उनसे प्रति व्यक्ति 500 रुपये लेकर पंजीकरण उपलब्ध कराये गये थे, परन्तु ये पंजीकरण फर्जी है, इसकी जानकारी इनको आज पुलिस चेकिंग में पता चली।
  3. अमर सिंह पुत्र श्री मोहन सिंह निवासी एमडी मिशन के पास पीके पुरम थाना क्षेत्र जिला कोटा, राजस्थान ने बताया कि हरिद्वार में सोनू बब्बर टूर एण्ड ट्रेवल्स के द्वारा इनसे प्रति व्यक्ति 2500 रुपये लेकर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराया गया, इनको इसके फर्जी होने की जानकारी आज पता चली।
  4. बृजेश कुमार पुत्र श्री राम किशन राणा निवासी दीवान मौहल्ला, खाण्डेवाला जिला पटना, बिहार ने शिकायत की है कि सौरभ नामक व्यक्ति ने उनका फर्जी रजिस्ट्रेशन तैयार किया गया।
  5. पटेल भास्कर भाई निवासी सादली शिजारे बड़ोदरा, गुजरात ने शिकायत की है कि हरिद्वार में एक व्यक्ति ने इनके रजिस्ट्रेशन किये जो कि फर्जी हैं इसकी जानकारी आज पता चली।
  6. विजय जायसवाल पुत्र श्री ओम प्रकाश जायसवाल निवासी वार्ड नम्बर 3, जवाहरनगर, गोलाबाजार जनपद कुशीनगर ने शिकायत की है कि हरिद्वार में अक्षय नाम के व्यक्ति जिसने स्वयं को टूर एण्ड ट्रैवल्स संचालक बताया और रजिस्ट्रेशन बनाने के उनसे 35600 रुपये की धनराशि ली गयी।
  7. आशीष कुमार सिंह पुत्र श्री राधे श्याम सिंह निवासी विद्यावतीपुर, मंगलपुर, थाना लोहता, वाराणसी ने शिकायत की है कि हरिद्वार में एक व्यक्ति ने उनसे 13000 रुपये लेकर रजिस्ट्रेशन दिलाया गया, अपनी शिकायत में इन्होने ठगी करने वाले व्यक्ति का मोबाइल नम्बर और पैसे ट्रांसफर करने में प्रयुक्त यूपीआई उपलब्ध कराया है।
  8. सजैराओ भगवान हणुमर पुत्र भगवान पंवार निवासी नियर मार्केट यार्ड पलूस जिला सांगली महाराष्ट्र ने शिकायत की कि हरिद्वार निवासी जोगेन्द्र सिंह व दिल्ली निवासी राकेश ने इनके तीन साथियों से रजिस्ट्रेशन के 25000 रुपये लिये गये व आज चेकिंग में रजिस्ट्रेशन का फर्जी होना पाया गया है।
  9. लम्बाकुला किरन कुमार पुत्र लम्बाकुला वस्वाराज श्री निवास कॉलोनी, शादनगर, मंडल गुरूनगर,, जिला महबूब नगर तेलंगाना ने शिकायत की है कि ऋषिकेश व हैदराबाद निवासी व्यक्तियों ने मिलकर इनके कुल 13 व्यक्तियों के 17000 रुपये प्रति व्यक्ति के हिसाब से हैदराबाद से ऋषिकेश तक लाने का पैकेज एवं उसमें रजिस्ट्रेशन का भी पैसा लिया गया है। जब आज यहां पहुंचे हैं तो उनको रजिस्ट्रेशन के फर्जी होने व उनके साथ ठगी होने की जानकार पता चली है। 
पुलिस के स्तर से ठगी करने, जालसाजी व दस्तावेज का उपयोग धोखाधड़ी करने के प्रयोजन, जाली दस्तावेज का असली में उपयोग करने सम्बन्धी धाराओं मे पंजीकृत हुए इन सभी 9 अभियोगों में विवेचनात्मक कार्यवाही प्रचलित कर दी गयी है। जनपद पुलिस केदारनाथ धाम आने वाले श्रद्धालुओं का हार्दिक स्वागत करती है व जनपद में आने वाले श्रद्धालुओं व यात्रियों से अपील है कि वे अपना पंजीकरण करने के उपरान्त ही श्री केदारनाथ धाम की यात्रा पर आयें व पुलिस प्रशासन द्वारा बनायी जा रही व्यवस्थाओं में सहयोग करें। साथ ही इस बात के लिए भी चेतावनी जारी करती है कि यदि किसी भी यात्री अथवा टूर ऑपरेटर या ट्रैवल्स ऐजेन्सी के स्तर से कूटरचित पंजीकरण लाया जाना पाया जाता है तो सम्बन्धितों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर कठोरतम कार्यवाही की जायेगी। इसलिए यात्रा पर ही आयें न कि ऐसा कृत्य करें कि यात्रा तो नहीं कर पाये परन्तु मुकदमा झेलना पड़ जाये।