19 April 2024

राज्य आंदोलनकारी एवं अध्यक्ष गो सेवा आयोग डॉ. पंडित राजेन्द्र अंथवाल ने रामपुर तिराहा कांड में न्यायालय के फैसले का किया स्वागत, कहा – दोषियों को दी जाए फांसी की सजा

कोटद्वार : मुजफ्फरनगर के रामपुर तिराहा कांड के एक मुकदमें में आंदोलनकारी महिला से दुष्कर्म के दोषी और पीएसी से सेवानिवृत्त दो सिपाहियों को न्यायालय ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई जिसका राज्य आंदोलनकारी एवं अध्यक्ष गो सेवा आयोग डॉ. पंडित राजेन्द्र अंथवाल ने स्वागत किया है। कहा कि न्यायालय पर उन्हें पूर्ण विश्वास हैं। रामपुर तिराहा कांड के अन्य दोषियों को भी कठोर सजा मिलनी चाहिए। रामपुर तिराहा मूवमेंट के संयोजक रहे राज्य आंदोलनकारी एवं अध्यक्ष गो सेवा आयोग डॉ. पंडित राजेन्द्र अंथवाल ने कहा कि 02 अक्टूबर 1994 को मुजफ्फरनगर के रामपुर तिराहा कांड में शामिल दो दोषी पुलिसकर्मियों को सीबीआई की अदालत द्वारा आजीवन कारावास दिए जाने का स्वागत किया है । 30 साल बाद आए इस फैसले से उन सभी राज्य आंदोलनकारी व शहीद परिवारों को अवश्य राहत मिली है। रामपुर तिराहा कांड में शामिल तत्कालीन डीएम, एसएसपी समेत डीआईजी पर भी कार्रवाई हो।