2 March 2024

मतदान प्रतिशत बढाने के लिए मतदाता जागरूकता से जुड़ी गतिविधियों को गंभीरता व तत्परता से किया जाए संचालित – डीएम डॉ. मेहरबान सिंह बिष्ट

उत्तरकाशी : जिलाधिकारी डॉ. मेहरबान सिंह बिष्ट ने अधिकारियों को आगामी लोक सभा निर्वाचन को सुव्यवस्थित व शांति पूर्ण ढंग से संपादित करने के लिए समय रहते सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने की हिदायत देते हुए कहा है कि मतदान प्रतिशत बढाने हेतु मतदाता जागरूकता से जुड़ी गतिविधियों को गंभीरता व तत्परता से संचालित किया जाय। जिलाधिकारी ने कहा कि पिछले लोक सभा चुनाव में पचास फीसदी से कम मतदान वाले मतदान केन्द्रों में मतदान प्रतिशत बढाने के उपायों पर विशेष ध्यान केन्द्रित किया जाय, इसके लिए संबंधित क्षेत्र के सहायक रिटर्निग अधिकारी और अन्य जिम्मेदार अधिकारी इन मतदान केन्द्रों का दौरा करेंगे।
जिलाधिकारी ने कहा कि वह स्वयं भी ऐसे कुछ केन्द्रों पर जाकर मतदाताओं से मतदान करने की अपील करेंगे। जिलाधिकारी ने कहा कि निर्वाचन से जुड़ी बैठकों में सभी अधिकारी अनिवार्य रूप  से उपस्थित रहें। बैठक से अनुपस्थित रहने वाले अधिकारियों से पहली और आखिरी बार स्पष्टीकरण मांग कर बिना किसी उचित कारण के अनुपस्थित रहने वाले अधिकारियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।
जिलाधिकारी एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. मेहरबान सिंह बिष्ट ने जिला कार्यालय सभागार में निर्वाचन से संबंधित विभिन्न व्यवस्थाओं और जिम्मेदारियों के लिए नियुक्त नोडल अधिकारियों की बैठक लेकर कहा कि सभी पोलिंग बूथों के लिए आवश्यक न्यूनतम सुविधाओं का ब्यौरा अगले चार-पांच दिन के भीतर जुटाकर इन केन्द्रों पर आवश्यक फर्नीचर, बिजली, पानी, शौचाालय एवं रैम्प आदि की व्यवस्था सुनिश्चित की जाय। इसके लिए संसाधनों की कोई कमी नहीं रहने दी जाएगी। कमियों को दूर करने के लिए दस दिनों के भीतर काम शुरू कर दिया जाय। उन्होंने कहा कि अधिकतर मतदान केन्द्र विद्यालयों में हैं, मतदान केन्द्रों को दुरस्त किए जाने से विद्यालयों की स्थिति भी सुधरेगी।
जिलाधिकारी ने कार्मिकों का डाटाबेस तुरंत तैयार करने और विभागों में आउटसोर्स्ड कार्मिकों की भी सूचना संकलित करने के निर्देश देते हुए कहा कि निर्वाचन से संबधित सभी कार्यों व व्यवस्थाओं के लिए कार्मिकों की आवश्यकता व उपलब्धता का सटीक ब्यौरा तैयार किया जाय। उन्होंने निर्वाचन से संबंधित प्रशिक्षण को महत्वपूर्ण बताते हुए बेहतर व गुणवत्तापूर्ण प्रशिक्षण के इंतजाम करने तथा कार्मिकों की सुविधाओं का पूरा ध्यान रखे जाने पर जोर देते हुए कहा कि निर्वाचन कार्य हेतु कार्मिकों की तैनाती युक्तिसंगत व नियमसम्मत हो। जिलाधिकारी ने निर्वाचन से संबंधित विभिन्न व्यवस्थों को लेकर की जा रही तैयारियों की समीक्षा करते हुए नियंत्रण कक्ष, परिवहन, संचार आदि से संबंधित व्यवस्थाओं को लेकर भी आवश्यक निर्देश दिए।
बैठक में जिलाधिकारी डॉ. मेहरबान सिंह बिष्ट ने कहा कि मतदाता सूची में विशिष्ट नागरिकों के नाम अवश्य शामिल हों और वरिष्ठ व दिव्यांग मतदाताओं के मतदान की सुविधा के लिए भी पहले से सभी जरूरी तैयारी की जांय। जिलाधिकारी ने कहा कि पिछले लोक सभा चुनाव में जिले में त्रेपन मतदान केन्द्रों में पचास प्रतिशत से भी कम मतदान हुआ था। इन केन्द्रों पर मतदान प्रतिशत बढाने पर इस बार खास ध्यान दिया जाएगा। ऐसे केन्द्रों पर विशेष शिविर आयोजित कर मतदाताओं के मतदान हेतु प्रेरित किया जाएगा।
बैठक में अपर जिलाधिकारी रज़ा अब्बास, उप जिलाधिकारी बृजेश कुमार तिवारी, मुकेश चन्द रमोला, नवाजिश खालिक, मुख्य कृषि अधिकारी जे.पी.तिवारी, पीडी डीआरडीए रमेश चन्द्र, महाप्रबंधक उद्योग केन्द्र शैली डबराल, जिला पूर्ति अधिकारी  संतोष भट्ट, मुख्य उद्यान अधिकारी डा.डीके तिवारी, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ. एससी जोशी, सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी राकेश मोहन राणा सहित नोडल व सहायक नोडल अधिकारियों ने प्रतिभाग किया।