22 June 2024

विजिलेंस ने 15 हजार की रिश्वत लेते हुए वन दरोगा को रंगे हाथ किया गिरफ्तार

पौड़ी : उत्तराखंड विजिलेंस ने पौड़ी जनपद की पाबौ फॉरेस्ट रेंज के वन दरोगा को रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है। वन दरोगा की गिरफ्तारी के बाद वन विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। मिली जानकारी के अनुसार पैठाणी क्षेत्र के एक व्यक्ति ने विजिलेंस से टोल फ्री नंबर 1064 पर शिकायत की थी कि 2 मार्च 24 को पैठाणी पौड़ी गढवाल में वन पंचायत पाबौ की सभा हुई, जिसमें वन पंचायत के अन्तर्गत आने वाले गाँवो की आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के लोगो को मुर्गी व बकरी पालन आदि कार्यो को विभागीय अनुदान दिये जाने के सम्बन्ध में जानकारी दी गयी थी। शिकायतकर्ता ने बकरी पालन के लिए किये आवेदन के क्रम 50000 रूपये अनुदान विभाग द्वारा उसके खाते में जमा कर दिये गये थे। वन दरोगा हंस राज पंत ने शिकायतकर्ता से उक्त सम्बन्ध में फार्म आदि भरवाने तथा विभागीय अनुदान पास करवाने की एवज में रिश्वत की माँग की जा रही है । शिकायतकर्ता रिश्वत नहीं देना चाहता है। उसके खिलाफ कानूनी कार्यवाही चाहता है ।

उक्त शिकायत पर विजिलेंस सैक्टर देहरादून ने गोपनीय जाँच किये जाने पर प्रथम दृष्टया आरोप सही पाये जाने पर तत्काल ट्रैप टीम का गठन किया गया। टीम ने नियमानुसार कार्यवाही करते हुए 21 मई 2024 को चाकीसैंण सैक्सन पाबौ रेन्ज पौड़ी के वन दरोगा हंस राज पंत को शिकायतकर्ता से 15,000 रुपये की रिश्वत लेते हुये पैठाणी बाजार जनपद पौड़ी गढवाल से रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है। आरोपी से पूछताछ जारी है। इस प्रकरण में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अन्तर्गत मुकदमा पंजीकृत कर जांच की जाएगी।

निदेशक विजिलेंस डॉ. वी मुरूगेशन ने ट्रैप टीम को नगद पुरूस्कार से पुरूस्कृत करने की घोषणा की गयी है। वहीं आमजन से अपील की है यदि कोई सरकारी कर्मचारी रिश्वत की मांग करता है तो वविजिलेंस के टोल फ्री हैल्पलाइन नम्बर-1064 एवं Whatsapp हैल्पलाईन नम्बर 9456592300 पर 24X7 पर सम्पर्क करें।