13 April 2024

द हंस फाउण्डेशन की पहल से स्कूली छात्रों के साथ वनाग्नि रोकने को लेकर निकाली जागरूकता रैली

द्वारीखाल : द हंस फाउंडेशन ने उत्तराखंड में वन क्षेत्रों पर ग्रामीणों की निर्भरता को कम करने और जंगल की आग के खतरे को कम करने के लिए एक महत्वाकांक्षी मिशन शुरू किया है। उत्तराखंड में जहां एक ओर जंगल की आग एक विनाशकारी समस्या है, इस समस्या के समाधान के लिए हंस फाउंडेशन राज्य के चार जिलों बागेश्वर, अल्मोडा, पौड़ी गढ़वाल व टिहरी गढ़वाल में सक्रिय रूप से काम कर रहा है। इसी कम में आज 28 फरवरी 2024 को राजकीय इण्टर कालेज किर्तिखाल विकासखण्ड द्वारीखाल में छात्र छात्राओं शिक्षकों वन विभाग द्वारा द्वारा एक जनजागरूकता रैली का आयोजन किया गया जो विद्यालय प्रांगण से मुख्य बाजार किर्तिखाल होते हुये रैली के माध्यम से लोगो से अपील की गयी कि वनों को आग से बचाने में अपना सहयोग दें। रैली के दौरान स्कूली बच्चों द्वारा विभिन्न नारों के माध्यम से संदेश दिया गया कि वन किस प्रकार से सभी जन समुदाय व जीव जन्तुओं के लिये महत्वपूर्ण है। रैली के दौरान निम्न नारों के माध्यम से संदेश दिया गया। इस अवसर पर फारेस्ट फायर परियोजना के ब्लाक समन्वयक गिरीश खरोला, मोटीवेटर नीलम रावत, विद्यालय के समस्त अध्यापक व अध्यापिकायें वन विभाग के कर्मचारी, फायर फायटर उपस्थित रहे।