26 February 2024

राज्यसभा सांसद नरेश बंसल की अध्यक्षता में सड़क सुरक्षा समिति की एक बैठक आयोजित, जागरूता रैली को हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना, अधिकारियों को दिए आवश्यक दिशा निर्देश

 
हरिद्वार : राज्यसभा सांसद नरेश बंसल की अध्यक्षता में सोमवार को कलक्ट्रेट में सड़क सुरक्षा समिति की एक बैठक आयोजित हुई। सांसद राज्य सभा नरेश बंसल ने बैठक के बाद सड़क सुरक्षा जागरूता रैली को हरी झण्डी दिखाकर रवाना भी किया। सांसद राज्य सभा नरेश बंसल को बैठक में अधिशासी अभियन्ता लोक निर्माण सुरेश तोमर एवं एआरटीओ रश्मि पन्त ने प्रस्तुतीकरण के माध्यम से संड़क सुरक्षा से सम्बन्धित विभिन्न बिन्दुओं के सम्बन्ध में विस्तार से जानकारी दी। 
सांसद राज्य सभा नरेश बंसल को बैठक में अधिकारियों ने वर्ष के किस माह में कितनी दुर्घटनायें हुई के बारे में बताया कि माह अप्रैल, मई, अक्टूबर, नवम्बर एवं दिसम्बर में दुर्घटनाओं व मृतकों की संख्या में वृद्धि हुई है। इस पर सांसद राज्य सभा नरेश बंसल ने कारण पूछा तो अधिकारियों ने बताया कि इन माहों में यात्रा सीजन तथा पर्यटन सीजन होने की वजह से यातायात का दबाव काफी अधिक था तथा सर्वाधिक दुर्घटना व जनहानि कार, दुपहिया तथा भार वाहनों से हुई है, जिसके लिये सड़क सुरक्षा तथा जागरूकता की कार्यवाही की जा रही है।  
सांसद राज्य सभा नरेश बंसल द्वारा बैठक में यह पूछे जाने पर कि सर्वाधिक दुर्घटनायें किन कारणों से होती है, इस पर अधिकारियों ने बताया कि इसका प्रमुख कारण ओवर स्पीड, रैश ड्राईविंग तथा गलत दिशा में वाहन चलाना है। उन्होंने यह भी जानकारी ली कि जनपद में जो दुर्घटनायें घटित हो रही हैं, वे ज्यादा शहरी क्षेत्र में हो रही हैं या देहात क्षेत्र में। इस पर अधिकारियों ने बताया कि देहात क्षेत्र में अधिक दुर्घटनायें घटित हो रही हैं। उन्होंने इसका कारण पूछा तो अधिकारियों ने बताया कि देहात क्षेत्र में यातायात का अधिक दबाव है, सड़कों पर सुरक्षात्मक उपायों की कमी के साथ ही जागरूकता का भी अभाव है, जिसके लिये निरन्तर जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। इसके अलावा जनपद के तीन प्रमुख राष्ट्रीय राजमार्गों-श्यामपुर पुलिस चौकी, भगवानपुर व नारसन चैकपोस्ट पर ओवर स्पीडिंग पर नियंत्रण करने हेतु एएनपीआर कैमरा लगाये गये हैं। इस पर सांसद राज्य सभा नरेश बंसल ने निर्देश दिये कि एएनपीआर कैमरों की संख्या और बढ़ाई जाये।
बैठक में अधिकारियों ने यह भी बताया कि सड़क सुरक्षा माह के अन्तर्गत 103 स्कूलों में जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है, सभी सड़कों में वाहनों की गति सीमा का निर्धारण कर दिया गया है, हर रूट के लिये एक इण्टरसेप्टर की तैनाती की गयी है, जागरूकता के लिये फर्स्ट रिसपोंडर के रूप में व्यापारियों, होमगार्ड आदि को ट्रेनिंग दी जा रही है, रूड़की में रोडवेज चालकों के आखों की जांच के लिये कैम्प का आयोजन किया गया। सांसद नरेश बंसल ने बैठक में अधिकारियों से किस समयावधि में सर्वाधिक दुर्घटनायें हेाती हैं, के सम्बन्ध में जानकारी ली तो अधिकारियों ने बताया कि सायं 6 बजे से रात्रि 12 बजे के मध्य सर्वाधिक दुर्घटनायें सामने आयी हैं। 
सांसद राज्य सभा नरेश बंसल ने जनपद के अन्तर्गत कुल कितने ब्लैक स्पॉट हैं तथा उनके सुधारीकरण की क्या कार्रवाई की जा रही है, के सम्बन्ध में जानकारी ली तो अधिकारियों ने बताया कि जनपद के अन्तर्गत 40 ब्लैक स्पॉट चिह्नित किये गये हैं, जिनमें से दीर्घकालीन 30 ब्लैक स्पॉट में सुधार कर लिया गया है तथा शेष में सुधार की कार्रवाई जारी है। इस पर सांसद ने अधिकारियों को इस कार्य में और तेजी लाने के निर्देश दिये। सांसद राज्य सभा नरेश बंसल द्वारा पुलिस तथा परिवहन द्वारा वर्ष 2023 में प्रवर्तन की क्या कार्रवाई की गयी, के सम्बन्ध में पूछा तो अधिकारियों ने बताया कि बिना हेल्मेट तथा बिना सीट बैल्ट आदि के प्रकरणों में 67.23 प्रतिशत लोगों के विरूद्ध कार्रवाई की गयी। बैठक में सड़क सुरक्षा से सम्बन्धित कई प्रस्ताव समिति के सम्मुख रखे गये।
बैठक में सांसद राज्य सभा नरेश बंसल ने कहा कि प्रत्येक जगह सड़कों का लगातार विस्तार हो रहा है, लेकिन फिर भी दुर्घटनाओं का ग्राफ बढ़ रहा है। इस पर ध्यान देने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि यदि हम अपनी आदतों में हेल्मेट तथा सीट बैल्ट को शामिल कर लें तो दुर्घटनाओं के प्रतिशत में काफी कमी आ सकती है। उन्होंने कहा कि दुर्घटना होने पर यदि घायल व्यक्ति को तुरन्त मेडिकल ऐड मिल जाये तो काफी लोगों की जान बच सकती है तथा हमें इस पर और अधिक जागरूकता लाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि आपका काम चाहे जितना भी जरूरी है, अगर आप किसी घायल को देखते हैं, तो सबसे पहले उसे अस्पताल पहुंचायें। इसमें किसी भी तरह से डरना नहीं चाहिये। उन्होंने कहा कि हमें सड़क सुरक्षा के प्रकरणों में स्कूल के बच्चों, ब्लाकों, एनजीओ, ग्राम पंचायतों, पम्फलेट, नुक्कड नाटक, विज्ञापन, सोशल मीडिया आदि का अधिक से अधिक प्रयोग जागरूकता बढ़ाने में लेना चाहिये ताकि दुर्घटनाओं का प्रतिशत कम से कम हो। 
सांसद राज्य सभा नरेश बंसल ने इस मौके पर स्पीड फील्ड स्कूल के पांच छात्र-छात्राओं को सड़क जागरूकता के सम्बन्ध में आयोजित ड्राइंग पेण्टिंग प्रतियोगिता में सड़क सुरक्षा से सम्बन्धित उत्कृष्ट ड्राइंग पेण्टिंग बनाने के लिये सम्मानित भी किया। इस अवसर पर जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल, संयुक्त मजिस्ट्रेट रूड़की दिवेश शाशनी, नगर आयुक्त नगर निगम हरिद्वार वरूण चौधरी, एसडीएम लक्सर गोपाल चौहान, एसडीएम भगवानपुर जितेन्द्र कुमार, एसपी ट्रैफिक पंकज गैरोला, एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार, एएसडीएम रूड़की विजयनाथ शुक्ल, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. मनीष दत्त, एआरटीओ पंकज श्रीवास्तव, अधिशासी अभियन्ता एनएचएआई रूड़की अतुल कुमार शर्मा, निकायों के अधिशासी अधिकारी सहित सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित थे।