27 May 2024

जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. मेहरबान सिंह बिष्ट ने मतदान केन्द्रों की व्यवस्थाओं, मतदान सामग्री वितरण, संचार, सुरक्षा एवं परिवहन से संबधित व्यवस्थाओं की विस्तार से की समीक्षा, दिए निर्देश

उत्तरकाशी (कीर्ति निधि सजवाण):  लोक सभा चुनाव के लिए जिले के 544 बूथों आगामी 19 अप्रैल को होने वाले मतदान को संपन्न कराने के लिए जिला मुख्यालय से 16 अप्रैल से मतदान पार्टियों की रवानगी का सिलसिला शुरू हो जाएगा। पहले दिन पी थ्री श्रेणी में शामिल पुरोला विधानसभा क्षेत्र  की 11 दूरस्थ मतदान केन्द्रों की पार्टियां रवाना होंगी। जबकि 17 अप्रैल को 67 मतदान पार्टियों को मतदान केन्द्रों के लिए भेजा जाएगा। बाकी सभी मतदान टोलियां एक दिन पूर्व 18 अप्रैल को जिला मुख्यालय से प्रस्थान करेंगी। सभी मतदान टोलियों को रवानगी से एक दिन पूर्व मतदान सामग्री का वितरण किया जाएगा और ईवीएम मशीन रवानगी के दिन ही उपलब्ध कराई जाएगी। 
जिलाधिकारी एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. मेहरबान सिंह बिष्ट ने चुनाव के आखिरी दौर की तैयारियों की समीक्षा के लिए जिला मुख्यालय में आयोजित नोडल अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि अब एक सप्ताह का दौर अत्यंत ही संवेदनशील एवं महत्वपूर्ण है। लिहाजा सभी कार्य पूरी सावधानी व तत्परता से तय समय में पूरे होने जरूरी हैं। जिलाधिकारी  मतदान के दिन से 72 घंटे पूर्व के लिए तय मानक संचालन प्रक्रिया के अनुसार कार्रवाई सुनिश्चित किए जाने को लेकर भी अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि चुनाव को स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए हर संभव कदम उठाए जाए और आचार संहिता के अनुपालन पर कड़ी नजर रखी जाय। 
जिलाधिकारी ने मतदान केन्द्रों की व्यवस्थाओं, मतदान सामग्री वितरण, संचार, सुरक्षा एवं परिवहन आदि से संबधित व्यवस्थाओं की विस्तार से समीक्षा करते हुए कहा कि मतदान पार्टियों की रवानगी सुव्यवस्थित व सुरक्षित ढंग से संपन्न कराने के लिए सभी इंतजाम चाक चौबंद रखे जाए। इसके लिए सभी आवश्यक तैयारियां पूरी रखें और सभी स्तरों पर रिजर्व व वैकल्पिक इंतजाम भी  सुनिश्चित किए जाए। मतदान केन्द्रों पर मतदान कार्मिकों के भोजन, रात्रि विश्राम की उपयुक्त व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिए जाने पर जोर देते हुए जिलाधिकारी ने कार्मिकों की चिकित्सा व्यवस्थ एवं प्राथमिक उपचार की व्यवस्था के संबंध में भी निर्देश दिए। बताया गया कि मतदान टीमों के लिए 800 प्राथमिक चिकित्सा किट तैयार कर इन किटों को मतदान सामग्री के साथ उपलब्ध कराने का इंतजाम किया गया है। जिलाधिकारी ने कहा कि मतदान टोलियों को ले जाने वाले सभी वाहनों पर जीपीएस डिवाईस स्थापित करने का काम तुरंत पूरा कर इन वाहनों की पोर्टल पर मैविंग कर ली जाय। इसके लिए समय रहते अधिग्रहीत वाहनों को जिला मुख्यालय पर मंगा लिया जाय। 
जिलाधिकारी ने हिमांचल प्रदेश की सीमा पर स्थापित चैकपोस्ट एवं अन्तर्जनपदीय सीमाओं पर तैनात एसएसटी के साथ ही उड़नदस्तों एवं वीडियो सर्विलांस टीमों को अब और अधिक मुस्तैदी व सतर्कता के साथ निरंतर निगरानी में जुटे रहने की हिदायत देते हुए कहा कि अवैध सामग्री व तय मात्रा से अधिक की नकदी व अन्य वस्तुओं के परिवहन पर पड़ी नजर रखी जाय। बैठक में मुख्य विकास आधिकारी तथा अपर जिला निर्वाचन अधिकारी जयकिशन, अपर जिलाधिकारी,  एआरओ गंगोत्री बृजेश कुमार तिवारी, उप जिलाधिकारी मुकेश चंद रमोला, मुख्य कृषि अधिकारी जेपी तिवारी, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. बी.एस.रावत, मुख्य शिक्षा अधिकारी अमित कोटियाल, जीएम डीआईसी शैली डबराल, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी चेतना अरोड़ा, अधिशासी अभियंता रजनीश कुमार, मनोज गुसांई, एआरटीओ जितेन्द्र कुमार, आपदा प्रबंधन अधिकारी देवेन्द्र पटवाल सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे। जबकि पुलिस अधीक्षक अर्पण यदुवंशी, एआरओ पुरोला देवानंद शर्मा, एआरओ यमुनोत्री नवाजिश खलिक, पुलिस क्षेत्राधिकारी प्रशांत कुमार ने वीडियो कांन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक में भाग लिया।
 


You may have missed