28 May 2024

लोकतंत्र के महापर्व को कुशलतापूर्वक संपन्न कराने में मातृ शक्ति की रहेगी महत्वपूर्ण भूमिका – जिला निर्वाचन अधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल

हरिद्वार : लोकतंत्र के महापर्व को कुशलतापूर्वक संपन्न कराने में मातृ शक्ति की महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी। यह बात जिला निर्वाचन अधिकारी एवं रिटर्निंग ऑफिसर धीराज सिंह गर्ब्याल ने मंगलवार को कन्वेशन हॉल में चल रहे प्रशिक्षण कार्यक्रम बोलते हुए कही।  उन्होंने सभी महिलाओं को नवरात्रि की बधाई दी। उन्होंने कहा कि सफल कार्यक्रम एवं सफलता के पीछे महिलाओं का रोल रहता है, महिलाओं का रोल निर्वाचन में भी महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि महिलाएं सक्रिय रूप से काम करती हैं,  जिसका लाभ निश्चित ही निर्वाचन के दौरान मिलेगा। उन्होंने कहा कि ड्यूटी हम लगा रहे हैं तो आपके बारे में सोचने की भी जिम्मेदारी भी हमारी है।
उन्होंने कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया को कुशलतापूर्वक संपन्न कराने में मातृ शक्ति की भी महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी। उन्होंने कहा कि इस बार जनपद में 11 पिंक बूथ बनाए जा रहे हैं, जिनमे समस्त टीम महिलाओं की होगी। इसके साथ ही 561 परदानशी बूथों पर महिलाओं की पहचान के लिए महिला कर्मचारी तथा 527 मतदान पार्टियों में मतदान अधिकारी द्वितीय  के रूप में महिलाओं की ड्यूटी लगाई गई है। उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि प्रशिक्षण में सिखाई जा रही बारीकियों को गहनता से आत्मसात करें तथा कोई भी समस्या आती है तो उसका समय से समाधान करा लें।
नोडल अधिकारी प्रशिक्षण केएन तिवारी, मास्टर ट्रेनरों ने सैद्धान्तिक प्रशिक्षण में बारीकियों को समझाते हुए ईवीएम प्रशिक्षण के दौरान मतदान कार्मिक को विभिन्न  प्रपत्र भरने, ईवीएम को ऑन व ऑफ करने व सील करने के साथ ही बीयू, सीयू तथा वीवीपैट को संयोजित करने, खोलने और सील करने की प्रक्रिया के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए हैंड्स ऑन प्रशिक्षण दिया गया। इसके साथ ही मास्टर ट्रेनरों ने मतदान हेतु सामग्री प्राप्त के तरीके, मतदान से पूर्व बूथ पर की जाने वाली कार्यवाही, मतदान शुरू करने, मतदान समाप्ति सहित सम्पूर्ण मतदान प्रक्रिया की विस्तार से जानकारी दी।  प्रशिक्षण कार्यशाला में आज 1965 महिलाओं को प्रशिक्षण प्रदान किया गया।प्रशिक्षण कार्यक्रम नोडल अधिकारी प्रशिक्षण केएन तिवारी, मास्टर ट्रेनर यूसी राय, डॉ.संतोष चमोला, सुशील कुमार, पीडीएमएस हेतु नलिनी ध्यानी, डॉ. नरेश चौधरी, अमित कुमार गौतम, प्रो. आरसी शुक्ल, प्रो. अजय मलिक, ईवीएम नोडल अमित नौटियाल आदि उपस्थित थे।