26 February 2024

गणतंत्र दिवस पर कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने झण्डा रोहण कर आयोजित परेड का निरीक्षण किया तथा सलामी ली, कहा – हमारी सरकार दूरस्थ व पिछड़े क्षेत्रों के विकास के लिये पूरी तरह प्रतिबद्ध

हरिद्वार :  लोक निर्माण, पर्यटन, सिंचाई, लघु सिंचाई, संस्कृति, ग्रामीण निर्माण पंचायतीराज, जलागम प्रबन्धन, बाढ़ नियंत्रण एवं भारत-नेपाल उत्तराखण्ड नदी परियोजनायें मंत्री सतपाल महाराज ने शुक्रवार को पुलिस लाइन रोशनाबाद में गणतंत्र दिवस के अवसर पर आयोजित झण्डारोहण कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में प्रतिभाग किया। उन्होंने पुलिस लाइन रोशनाबाद पहुंचने पर झण्डा रोहण किया व इस मौके पर आयोजित परेड का निरीक्षण किया तथा सलामी ली। 
कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने 75वें गणतंत्र दिवस की सभी को बधाई व शुभकामनायें देते हुये कार्यक्रम को सम्बोधित करते कहा कि आज का दिन ज्ञात-अज्ञात स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों, शहीदों तथा आन्दोलनकारियों को नमन करने का दिन है। उन्होंने कहा कि हमारा संविधान राष्ट्र का निरन्तर मार्गदर्शन करते आ रहा है तथा हम सभी की जिम्मेदारी बनती है कि हम लोकतांत्रिक व्यवस्थाओं के प्रति सदैव प्रतिबद्ध रहें। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार प्रदेश के विकास के लिये निरन्तर कार्य कर रही है है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का उल्लेख करते हुये कहा कि उनके विजन के अनुरूप केदारनाथ तथा बद्रीनाथ धाम में करोड़ों की लागत से पुनर्निर्माण तथा पुनर्विकास के कार्य कराये जा रहे हैं। इसके अतिरिक्त केदारनाथ तथा बद्रीनाथ की तर्ज पर कुमाऊं के 48 पौराणिक मन्दिरों को भव्य स्वरूप प्रदान करने के लिये मानस खण्ड मन्दिर माला के तहत कार्य किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त गोलज्यू सर्किल, शाक्त सर्किट आदि को भी विकसित किया जा रहा है। 
कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि हमारी सरकार दूरस्थ व पिछड़े क्षेत्रों के विकास के लिये पूरी तरह प्रतिबद्ध है। उन्होंने सीमान्त गांव गुंजी तथा माणा का उल्लेख करते हुये कहा कि भारत सरकार द्वारा संचालित वाईब्रेण्ट विलेज प्रोग्राम में सीमान्त गांवों के सर्वांगीण विकास के नये द्वार खुले हैं। उन्होंने कहा कि होम स्टे योजना में ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूती मिल रही है तथा निरन्तर होम स्टे का रजिस्ट्रेशन जारी है। कनेक्टिविटी का उल्लेख करते हुये उन्होंने कहा कि इसके अन्तर्गत अभूतपूर्व कार्य हो रहा है तथा दिल्ली-देहरादून एलिवेटेड रोड बनने से दिल्ली से देहरादून की दूरी मात्र ढाई घण्टे में तय कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार एक जनपद दो उत्पाद को निरन्तर प्रोत्साहित कर रही है, अमृत योजना के अन्तर्गत सात शहरों में 151 योजनाओं पर कार्य चल रहा है, गुड गवर्नेंस द्वारा निवेश की नींव रखी गयी है, इन्वेस्टर्स समिट अत्यन्त सफल रहा, जी-20 की सभी बैठकों में हमारे अनुभव अविस्मरणीय रहे। उन्होंने कहा कि मातृ शक्ति का सम्मान हमारी परम्परा रही है, प्रदेश की विकास व प्रगति में मातृशक्ति के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता तथा मातृशक्ति का कल्याण व विकास हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि हम सभी के सहयोग से विकल्प रहित संकल्प से निर्धारित लक्ष्यों को जल्दी ही प्राप्त कर लेंगे। 
कार्यक्रम के दौरान सीपीयू, चेतक मोबाइल, इण्टर सेप्टर, विधि विज्ञान प्रयोगशाला, डॉग स्क्वाइड, बम निरोधक दस्ता, पुलिस कण्ट्रोल रूम संचार, अग्निशमन आपात सेवा, जल पुलिस आदि ने अपनी-अपनी सेवाओं का दर्शकों के सामने प्रदर्शन किया तो दर्शक दीर्घा तालियों की गड़गड़ाहट से गूंजने लगा। इसके पश्चात विभिन्न विभागों-बाल विकास, अक्षय ऊर्जा, उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण, कृषि, पर्यटन, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, पशु पालन, आपदा प्रबन्धन, समाज कल्याण आदि द्वारा लोगों को अपने-अपने विभागों की उपलब्ध्यिों व संचालित होने वाली योजनाओं की जानकारी आकर्षक झांकियों के माध्यम से दी, जिनकी दर्शकों ने काफी प्रशंसा की। कार्यक्रम में विभिन्न स्कूलों-सेण्ट मेरी सीनियर सेकेण्ड्री, स्वामी हरि आनन्द स्कूल, सांई पब्लिक स्कूल, डीएमएल मुंज्याल स्कूल, पुलिस मार्डन पब्लिक स्कूल के छात्र-छात्राओं ने देशप्रेम, देशभक्ति, देश की प्रगति में इसरो का योगदान आदि सांस्कृतिक कार्यक्रमों के माध्यम से रंगारंग प्रस्तुतियां दीं। 
कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने इस मौके पर प्रतिभागियों द्वारा परेड, बैण्ड व विभिन्न कार्यक्रमों में शानदार प्रदर्शन करने पर उनकी भूरि-भूरि प्रशंसा की तथा उनका उत्साह बढ़ाते हुये उन्हें सम्मानित भी किया।  कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज का पुलिस लाइन पहुंचने पर पुष्पगुच्छ, शाल ओढ़ाकर तथा प्रतीक चिह्न भेंटकर भव्य स्वागत व अभिनन्दन किया गया। मंच का सफल संचालन रेडक्रास सचिव डॉ. नरेश चौधरी तथा अमर ने किया। 
इस अवसर पर जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रमेन्द्र डोभाल, मुख्य विकास अधिकारी प्रतीक जैन, अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) दीपेन्द्र सिंह नेगी, एसएलओ लक्ष्मीराज चौहान, पीडी केएन तिवारी, उद्यान अधिकारी ओम प्रकाश सिंह, जिला कार्यक्रम अधिकारी सुलेखा सहगल, पर्यटन अधिकारी सुरेश सिंह यादव, एआर कोआपरेटिव पीएस पोखरिया, आपदा प्रबन्धन अधिकारी मीरा रावत, राज्य आन्दोलनकारी, स्वतंत्रता संग्राम सेनानी/उनके आश्रित, विभिन्न स्कूलों की छात्र-छात्रायें व उनके परिजन, सम्बन्धित पदाधिकारी, पुलिस तथा प्रशासन के सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित थे।