21 May 2024

निदेशक पंचायतीराज निधि यादव की मेहनत लायी रंग, पीडीआई रैंकिंग में पहले नम्बर पर आया उत्तराखंड

निदेशक पंचायतीराज निधि यादव (Director Panchayati Raj Nidhi Yadav) के नेतृत्व में लगातार हाईटेक हो रही हैं पंचायते

देहरादून : पंचायती राज विभाग ने अब ग्राम पंचायतों के विकास कार्यों की हकीकत तय करने के लिए पंचायत विकास सूचकांक (पीडीआई) जारी की हैं जिसमें उत्तराखंड को देश में पहला स्थान मिला हैं। निदेशक पंचायतीराज निधि यादव (Director Panchayati Raj Nidhi Yadav) के निर्देशन में उत्तराखंड पंचायतीराज विभाग नित नये-नये आयाम स्थपित कर रहा है । पंचायतो में ट्रेनिंग हो या फिर कार्य पारदर्शिता सभी में पंचायतीराज विभाग तेजी से आगे बढ़ रहा है । निदेशक पंचायतीराज निधि यादव (Director Panchayati Raj Nidhi Yadav) के निर्देशन में ही पंचायतों के डिजिटलीकरण का सपना भी साकार होता नजर आ रहा हैं । निदेशक पंचायतीराज निधि यादव (Director Panchayati Raj Nidhi Yadav) के निर्देशन में उत्तराखंड प्रदेश के पंचायतों को हाईटेक होते जब देखते है तो डिजिटल इण्डिया का सपना साकार होता नजर आता है । इसके साथ ही निदेशक पंचायतीराज निधि यादव (Director Panchayati Raj Nidhi Yadav) ने पर्यावरण संरक्षण को लेकर एक अनूठी पहल शुरू की है।

निदेशक पंचायतीराज निधि यादव (Director Panchayati Raj Nidhi Yadav) ने बताया कि पीडीआई पंचायतों में विकास को आवंटित धन और उसके समुचित उपयोग का पैमाना बनेगी। इसी रिपोर्ट के आधार पर पंचायतों में नई योजनाएं लागू करने के साथ ही पुरस्कार के लिए पंचायतें अपना स्थान बना सकेंगी। पंचायत विकास सूचकांक एक बहुआयामी वार्षिक रिपोर्ट हैं। इसमें पंचायत स्तर पर स्वास्थ्य, शिक्षा, महिला बाल कल्याण, कृषि संसाधन, पशुपालन, बैंकिंग, आजीविका, खाद्य सुरक्षा, आवास, रोजगार, नवनिर्माण सहित विभिन्न इंडीकेटर के तहत डाटा संकलित किया गया हैं। पीडीआई के माध्यम से इन क्षेत्रों में ग्राम पंचायतों के कार्य प्रदर्शन का आंकलन कर पंचायतों की मजबूती व कमजोरी का पता लगाया जाएगा। पीडीआई में जो पंचायत बेहतर प्रदर्शन करेगी, उसे जिला व राज्य स्तर पर साझा किया जाएगा ताकि दूसरी पंचायतें भी अपनी तरक्की का पैमाना तय कर सकें।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड में ग्राम पंचायतें होगी हाईटेक, निदेशक पंचायतीराज निधि यादव ने दिए आदेश !