12 June 2024

क्षतिग्रस्त पैदल मार्ग : ऐसे में कैसे मतदान करने जाएं ऐराठा गांव के ग्रामीण

देवाल (चमोली)। चमोली जिले के देवाल विकास खंड ‌मुख्यालय से चार किलोमीटर की दूरी पर मराठा गांव बसा है। गांव का पोलिंग बूथ राजकीय इंटर कालेज बोरागाड में है। पोलिंग बूथ जाने के लिए ऐराठा से ओडर गांव होते हुए आठ किलोमीटर विहण जंगलों से हो कर गुजरना पड़ता है। ऐराठा-ओडर-बोरागाड पैदल मार्ग वन विभाग के अधीन आता है।  पोलिंग बूथ तक जाने वाला यह रास्ता बीते एक साल पूर्व की बर्षात से विभिन्न स्थानों पर क्षतिग्रस्त हो रखा है। ऐसे में गांव के 160 वोटर मतदान करने कैसे बूथ तक पहुंचे यह एक समस्या बनी हुई है।

गांव के सामाजिक कार्यकर्ता राजेन्द्र कुमार और पूर्व प्रधान मदन राम ने बताया है कि गांव से पोलिंग बूथ जाने वाला एक मात्र पैदल रास्ता है जो खितोली से जुगो गधेरे तक पैदल चलने लायक नहीं है। टूटे रास्ते में डाली गई लकड़ी की बल्लियां भी जर्जर  हो चुकी है। ऐसे में गांव के वोटर कैसे बूथ तक पहुंचेगे यह एक समस्या सबके सामने बनी हुई है।

बोले अधिकारी

ऐराठा का मामला संज्ञान में आया है। वन विभाग के इस रास्ते की ठीक करने के लिए बोल दिया जाएगा। 19 अप्रैल को‌ रास्ता ठीक किया जाएगा।

इवरार अहमद एसडीएम थराली।

ऐराठा-ओडर-बोरागाड पैदल सड़क को खोलने के लिए काम शुरू कर दिया है कुछ दिन में रास्ता खोल दिया जाएगा।

हरीश थपलियाल वन क्षेत्राधिकारी पूर्वी पिंडर रेंज देवाल।